ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

31 मई, 2009

सुधार की उम्मीद में और चहकेगा सेंसेक्स

आर्थिक सुधारों की रफ्तार बढ़ने की उम्मीद में आने वाले दिनों में दलाल स्ट्रीट के प्रति निवेशकों की दिलचस्पी और बढ़ सकती है। इसके चलते इस सप्ताह भी बाजार में तेजी जारी रहने के आसार हैं। आर्थिक सुधार संबंधी सरकार की चर्चाओं से बाजार पर तेजड़ियों की पकड़ मजबूत होती गई।

तेजी के इन सौदागरों के चलते 29 मई को समाप्त कारोबारी सप्ताह के दौरान बंबई शेयर बाजार [बीएसई] के सेंसेक्स ने खासी तेजी दर्ज की। इतना ही नहीं मई के दौरान इस संवेदी सूचकांक में 17 साल में पहली बार इतनी तेजी आई है।

जुलाई में वित्त वर्ष 2009-10 के पूर्ण आम बजट में राजकोषीय अनुशासन और सरकारी कंपनियों के विनिवेश पर ध्यान केंद्रित करने के आसार हैं। चूंकि महंगाई दर कई हफ्तों से एक फीसदी से नीचे बनी हुई है तथा बैंकिंग प्रणाली में पर्याप्त नगदी है, इसलिए ब्याज दरों में और कटौती की संभावना है। इन सकारात्मक संकेतों से बाजार में तेजी की धारणा बनी रह सकती है। समीक्षाधीन सप्ताह में मुरली देवड़ा के दूसरी बार पेट्रोलियम मंत्री बनने और तेल कीमतों से नियंत्रण खत्म करने संबंधी उनके बयान से तेज आर्थिक सुधारों की उम्मीदों को बल मिला। इन सकारात्मक संकेतों के मद्देनजर तेजड़ियों ने बाजार में जोरदार लिवाली की। वर्ष 2008-09 के दौरान देश की विकास दर 6.7 प्रतिशत रहने से भी बाजार को धार मिली। बीते सप्ताह के दौरान विदेशी निवेश की लगातार आवक बनी रहने से सेंसेक्स में करीब 5 फीसदी की तेजी आई।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स इसके पिछले सप्ताहांत के बंद स्तर की तुलना में 738.10 अंकों की तेजी के साथ सप्ताहांत में 14625.25 के स्तर पर जा पहुंचा। सेंसेक्स में यह तेजी का लगातार 12वां सप्ताह रहा। इसी प्रकार नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी पिछले हफ्ते के बंद स्तर के मुकाबले 210.45 अंक चढ़कर सप्ताहांत में 4448.95 पर बंद हुआ। पूंजी बाजार के मुख्य उत्प्रेरक विदेशी संस्थागत निवेशक लिवाल होते चले गए। इन्होंने 28 मई को 44.51 करोड़ डालर के शेयरों की खरीद की। इससे मई के दौरान बाजार में कुल 4 अरब डालर की विदेशी पूंजी की आवक दर्ज हुई। समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान रीयल एस्टेट कंपनियों के शेयर सूचकांक में 15.38 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। मेटल, कैपिटल गुड्स व पीएसयू सूचकांकों में भी तेजी आई। आम निवेशकों की शेयर बाजार में बढ़ती दिलचस्पी का अंदाजा स्मालकैप व मिडकैप शेयरों में उनकी बढ़ती गतिविधियों से लगाया जा सकता है। इन दोनों सूचकांकों में भी खासी तेजी दर्ज की गई।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.