ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

11 अप्रैल, 2013

गृह मंत्री शिंदे के घर में घुसे जाट प्रदर्शनकारी, 13 पुलिसकर्मी निलंबित

जाट समुदाय को आरक्षण की मांग को लेकर करीब 150 प्रदर्शनकारी आज केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे के यहां स्थित आवास में घुस गए जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने लापरवाही बरतने के आरोप में 13 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया।

पुलिस ने 142 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करके उन पर दंगा और अनधिकृत तरीके से किसी के घर में प्रवेश करने का मामला दर्ज किया। घटना के समय शिंदे घर पर नहीं थे । वह रूस की आधिकारिक यात्रा पर गये हुए हैं।
अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के तत्वाधान में प्रदर्शनकारी प्रदर्शन के लिए जंतर मंतर पर एकत्रित हुए थे और शाम को तीन बसों में भरकर दो, कृष्णा मेनन मार्ग स्थित शिंदे के आवास पर पहुंच गए। पुलिस को संभवत: प्रदर्शनकारियों के इरादे की कोई भनक नहीं थी । पुलिस उस समय आश्चर्यचकित रह गई जब प्रदर्शनकारी गृहमंत्री के आवास के सामने बसों से उतरे।
प्रदर्शनकारियों ने शिंदे के आवास में घुसने का प्रयास किया लेकिन सुरक्षाकर्मी शुरूआत में उन्हें रोकने में कामयाब रहे। हालांकि उन्होंने दरवाजे को क्षतिग्रस्त कर उसे खोल लिया और परिसर में पहुंचकर धरना शुरू कर दिया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि 13 पुलिसकर्मियों को लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित किया गया है। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों को गृहमंत्री के आवास में घुसने से नहीं रोक पाए और न ही समय रहते उनके इरादे भांप सके।
प्रदर्शन का नेतृत्व यशपाल मलिक, सत्यपाल चौधरी, बीएस अहलावत, उम्मेद सिंह, मूलचंद दहिया और एस सिंह ढाका ने किया। बाद में सभी प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया और तुगलक मार्ग थाना ले जाया गया।
एक अधिकारी ने कहा कि प्रदर्शनकारियों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 149, 186, 353 और 451 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.