ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

22 अप्रैल, 2009

असेम्बली में भी हम तीनों मिलकर ही टिकट बाटेंगे - लालू प्रसाद

पार्लियामेन्ट ही नहीं असेम्बली में भी हम तीनों का समझौता रहेगा । हम तीनों मिलकर ही टिकट बाटेंगे। उपरोक्त बातें राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने नवगछिया स्थित मदन अहल्या महिला महाविद्यालय की एक चुनावी सभा में कहा । अपने भाषणके दौरान लालू प्रसाद ने नीतिश को आड़े हाथों लेते हुए अडवानी का यार बताया और कहा कि वे मुझे जीरो पर आउट करने कि बात कर रहे थे लेकिन हमने ऐसा छक्का मारा है कि वो बाउंड्री पार है। नीतिश के राज में बीपीएल और ऐपीएल का फैसला ही नहीं हुआ है। इसके अलावे मुखिया को हटाने का पावर जिलाधिकारी को दे दिया है । यह उल्टा कम किया है। रेलवे का तो भत्ता ही बैठा दिया था। हमने पुरा सेम्पू से साफ कराया है। रोज एक्सीडेंट होता था। हमने भाडा घटाया। गरीबों के लिए गरीब रथ चलाया। ९० हजार करोड़ का मुनाफा दिया। ४० हजार कुलियों को नौकरी दी। और अब विद्युतीकरण का कार्य किया जा रहा है। साथ ही हस्तिनापुर पर कब्जा करना है।
अंत में लालू प्रसाद ने वोटिंग मशीन का एक नमूना दिखाते हुए लोगों को बताया कि मशीन में वोट जरुर देना पर असली देखना है कि लाल्तेनिया किधर है उसी के ऊपर बटन होगा , उसी बटन को दबाना है। बटन दबाते ही पीं..... बोलेगा तब उंगली हटा लेना है। अगर मशीन पीं नहीं बोले तो वहां जो भी अधिकारी हो उससे शिकायत करना है। इस के साथ ही लालू प्रसाद ने उपस्थित जन समूह से हाथ भी उठवा कर जीत के प्रति आश्श्वस्त होने के लिए प्रत्यासी शकुनी chaudhari को माला भी पहनाई। रेल मंत्री लालू प्रसाद ने आज झारखण्ड में हुए नक्सली हमले के बारे में कुछ भी नहीं कहा।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.