ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

20 जून, 2012

गणेश पूजन के साथ रथयात्रा महोत्सव शुरू


जगन्नाथ मंदिर पानीपत में मंगलवार को गणेश पूजन के साथ ही भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा महोत्सव शुरू हो गया। महोत्सव से तीन दिन तक शहर का वातावरण भक्तिमय हो जाएगा। ऐतिहासिक नगरी में 21 जून को धूमधाम से रथयात्रा निकाली जाएगी।

स्वामी मुक्तानंद महाराज के पावन सानिध्य में 118 वां भगवान जगन्नाथ रथयात्रा महोत्सव धूमधाम से शुरू हुआ। सुबह 8 बजे मंदिर कार्यकारिणी के पदाधिकारियों ने गणेश पूजन व भगवान जगन्नाथ की नवयौवन पूजा की। सनातन धर्म संगठन की तरफ से संगीतमयी सुंदरकांड पाठ से माहौल भक्तिमय हो उठा। मुख्य अतिथि के तौर पर समाजसेवी सुधीर जिंदल व अजय सिंह ने ध्वजारोहण कर दीप प्रज्जवलित किया। भगवान जगन्नाथ की विशेष आरती में समाजसेवी विजय लक्ष्मी पालीवाल शामिल हुई। इस अवसर पर सूरज पहलवान, भूषण गुप्ता, प्रमोद गुप्ता, सतनारायण शर्मा, रमेश सिंगला, कन्हैया लाल गुप्ता, सुरेंद्र पुष्करणा, वेद शर्मा, देवेंद्र मित्तल, प्रदीप तायल, अशोक कैलाशी, लीलाधर, राजेंद्र गुप्ता, भगवान दास, लालचंद तायल व दिनेश मित्तल मौजूद थे।

जगन्नाथ की महिमा का गुणगान

भगवान जगन्नाथ की महिमा का गुणगान करते हुए स्वामी मुक्तानंद महाराज ने कहा कि भगवान अपने भक्त के प्रति करुणामयी होते हैं। भक्त की एक ही पुकार में दौड़े चले आते हैं। भक्तों का कष्ट दूर कर देते हैं। प्रभु का चिंतन हमेशा एकाग्र चित्त होकर करना चाहिए। देर शाम मंदिर प्रांगण में अमृतसर से आए बनवारी लाल ने अमृतमयी भजन गंगा की रसधारा बहाई। भक्ति गीत मैनू नच लेण दे. पर भक्त झूम उठे। भजन कीर्तन का सिलसिला देर रात जारी रहा।

भगवान जगन्नाथ का भव्य श्रृंगार

रथ यात्रा महोत्सव के प्रथम दिन मंदिर को बल्बों की लडि़यों से आकर्षक ढंग से सजाया गया। मंदिर परिसर में रोशनी की विशेष व्यवस्था की गई है। भगवान जगन्नाथ का भव्य श्रृंगार विशेष आकर्षण का केंद्र रहा। मंदिर समिति के संयोजक प्रमोद गुप्ता ने बताया कि गणेश पूजन व ध्वजारोहण के साथ तीन दिवसीय भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा महोत्सव शुरू हो गया। गाजे बाजे के साथ बृहस्पतिवार को शोभायात्रा निकाली जाएगी।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.