ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

10 जुलाई, 2009

भीषण कटाव के कारण विलीन हो सकता है सकुचा गांव

अनुमंडल पदाधिकारी कपिलदेव महतो भी भौंचक
नवगछिया प्रखंड के पुनामा प्रतापनगर पंचायत स्थित कोसी नदी किनारे स्थित सकुचा गांव के समीप जारी भीषण कटाव ने ग्रामीणों को दहला दिया है। कटाव का भयंकर रूप देख गुरूवार को निरीक्षण करने पहुंचे अनुमंडल पदाधिकारी कपिलदेव महतो भी भौंचक रह गये। इस दौरान भारी संख्या में जुटे ग्रामीणों ने उनसे गांव को बचाने की गुहार लगाते हुए कहा कि अगर यहां अविलंब कटाव निरोधी कार्य शुरू नहीं हुआ तो पूरा गांव एक सप्ताह में कोसी के गर्भ में समा जाएगा। फिलहाल गांव की खेती योग्य करीब सौ एकड़ से अधिक जमीन कटाव की भेंट चढ़ चुकी है।
ग्रामीणों ने बताया कि 15 दिन पहले शुरू हुआ कटाव तीन दिनों से विकराल रूप धारण कर चुका है। कटाव के कारण गांव के करीब 300 परिवारों के बेघर होने का खतरा मंडराने लगा है। इस बावत एसडीओ ने भागलपुर आयुक्त सहित जिलापदाधिकारी को एक त्राहिमाम संदेश भेजते हुए वस्तु स्थिति से अवगत कराते हुए बाढ़ नियंत्रण विभाग के कार्यपालक अभियंता को अविलंब युद्ध स्तर पर कटाव निरोधी कार्य चालू करने का निर्देश दिया है।
एसडीओ के निरीक्षण के बाद कटाव विशेषज्ञ दल ने रिटायर अभियंता आश्रम राय के नेतृत्व में कटाव का मुआयना किया। सकुचा गांव कोसी नदी के कगार पर सधुआ चापर से त्रिमुहान नवनिर्मित तटबंध के उत्तर स्थित है। गांव के तीन ओर से नदी घेराबंदी कर कटाव जारी रखे हुए है। यह गांव पिछले साल भी कोसी के कटाव की मार झेल चुका है। कोसी नदी के जलस्तर में बढ़ोत्तरी के साथ ही यहां कटाव का प्रलय शुरू हो गया है। एसडीओ ने बाढ़ नियंत्रण विभाग के अधिकारियों को भेजे संदेश में कहा है कि कटाव की मार से बचाने हेतु यहां वैसा ही काम किया जाए जैसा काजी कौरेया, खैरपुर, राघोपुर, इस्माइलपुर, सैदपुर, कमलाकुंड, तीनटंगा करारी, एवं मदरौनी में किया जा रहा है। एसडीओ ने निरीक्षण में पाया कि बाढ़ नियंत्रण विभाग के द्वारा बांस व बालू भरी बोरी केसहारे जो काम कटाव को रोकने के लिए किया जा रहा है वो काफी कम काम है।
एसडीओ ने पूरे मामले में विभाग की लापरवाही को भी उजागर करते हुए कहा कि अगर शुरू से बाढ़ नियंत्रण विभाग स्थिति पर नजर रखती तो शायद कटाव का कोप कुछ कम होता। ग्रामीणों का कहना है कि कटाव की रफ्तार देखकर ऐसा लगता है कि सप्ताह भर में पूरा गांव नदी में मिल जाएगा।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.