ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

15 जुलाई, 2009

मुबंई व दिल्ली से भी सूर्यग्रहण देखने पटना आयेंगे खगोलविद


वर्षो बाद इस तरह का सूर्य ग्रहण लग रहा हैं। ग्रहण पर रिसर्च करने के लिये सूबे के ही नहीं वरन देश-विदेश के खगोलविदों की निगाह लगी है। इस ग्रहण पर विशेष नजर रखने के लिये मुंबई के टाटा इंस्टीट्यूट आफ फंडामेंटल रिसर्च सेंटर एवं नई दिल्ली के कई प्रमुख खगोलविद पटना पहुंच रहे हैं। वहीं दूसरी ओर, आम लोग भी महज बीस रुपये खर्च कर विशेष चश्मा से सूर्य ग्रहण को अच्छी तरह देख सकेंगे। इस बाबत इंदिरा गांधी तारामंडल संस्थान के निदेशक डा.अमिताभ घोष ने बताया कि खगोलविदों की नजर में इस ग्रहण का बहुत महत्व है। इस ग्रहण पर काफी अर्से से रिसर्च चल रहा था। इस पर विशेष नजर रखने के लिये मुंबई व नई दिल्ली के दर्जन भर खगोलविद पटना आ रहे हैं। पूरी टीम पटना के गांधी मैदान से इस ग्रहण पर नजर रखेगी। इसकी पूरी रिकार्डिग करने की कोशिश की जायेगी ताकि भविष्य में भी इस पर मंथन हो सके। वहीं इस बाबत श्रीकृष्ण विज्ञान केन्द्र के अधिकारियों ने बताया कि राजधानी में ग्रहण से संबंधित सात-आठ संस्थानों की ओर से सेमिनार का आयोजन किया जा रहा है। इसके माध्यम से ही लोगों को भी इसकी पूरी जानकारी देने की कोशिश की जायेगी। विज्ञान केन्द्र की ओर से भवन के छत पर भी दूरबीन से सूर्य ग्रहण देखने की व्यवस्था की जा रही है। हालांकि जगह छोटी होने के कारण यहां कम ही लोगों के प्रवेश की इजाजत होगी। छत से टेलीस्कोप के माध्यम से सूर्य ग्रहण की फोटोग्राफी की जायेगी। इसका लाइव पिक्चर आडिटोरियम में एलसीडी प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाया जायेगा। आम लोगो के लिये श्रीकृष्ण विज्ञान केन्द्र की ओर से गांधी मैदान में बड़े पॉलीमर शीट्स लगाये जायेंगे।

इतना ही नहीं आम लोग अथवा बच्चों को सूर्य ग्रहण देखने के लिये श्रीकृष्ण विज्ञान केन्द्र एवं तारामंडल की ओर से विशेष चश्मा की व्यवस्था की गई है। इसकी कीमत महज बीस रुपये रखी गई है। इस विशेष चश्मे में सोलर फिल्टर की व्यवस्था की गई है ताकि देखने वालों की आंख पर इसका कुप्रभाव नहीं पड़ सके। इतना ही नहीं जो लोग अपने घर से ही ग्रहण को देखना चाहते हैं वे स्वयं के बनाये सूचि छिद्र कैमरे के जरिये देख सकते हैं। नंगी आंखों से सूर्य ग्रहण को देखना घातक साबित हो सकता है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.