ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

25 अक्तूबर, 2010

कर्नाटक में 60 स्थानों पर आयकर छापे

बेंगलूरू आयकर अधिकारियों ने सोमवार को कर्नाटक में 60 स्थानों पर छापा मारा जिसमें सत्ताधारी भाजपा के सात विधायकों के व्यापारिक परिसर शामिल हैं। मंत्री जनार्दन रेड्डी और जी. करुणाकर रेड्डी के परिसरों पर भी छापा मारा गया।

आयकर विभाग के सूत्रों ने बताया कि 60 से 65 स्थानों पर आयकर छापे मारे गए। खासतौर पर बेंगलूरु और बेल्लारी के परिसर विभाग का निशाना थे। यह कार्रवाई भाजपा और विपक्ष द्वारा विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोपों के बीच की गई है।

सूत्रों ने बताया कि खनन क्षेत्र से जुड़े रेड्डी बंधुओं और उनके निकट सहयोगी तथा मंत्री बी. श्रीरामुलु के परिसरों सहित सात विधायकों के व्यापारिक परिसरों पर छापे मारे गए। बेंगलूरू और बेल्लारी के अलावा होसपेट की कुछ खनन कंपनियों पर भी आयकर विभाग ने छापा मारा।

सत्ताधारी भाजपा और विपक्षी कांग्रेस तथा जदएस पर विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए गए हैं।

विपक्ष को चार विधायकों का नुकसान उठाना पड़ा है, जिन्होंने अपनी विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। उन्हें लेकर कांग्रेस और जदएस का आरोप है कि भाजपा ने 224 सदस्यीय विधानसभा में अपने सदस्यों की संख्या बढ़ाने के लिए यह प्रयास किया है। भाजपा के 11 विधायकों ने येदियुरप्पा सरकार से विद्रोह कर अपना समर्थन वापस ले लिया था। इनके साथ पाँच निर्दलीय विधायक भी थे, जिन्हें विधानसभा अध्यक्ष ने अयोग्य घोषित कर दिया था।

इस राजनीतिक संकट के बाद येदियुरप्पा को विधानसभा में दो बार शक्ति परीक्षण का सामना करना पड़ा था। ध्वनि मत से हुए पहले विश्वास मत को राज्यपाल एचआर भारद्वाज ने खारिज कर दिया था, जिन्होंने इसे असंवैधानिक करार देते हुए मुख्यमंत्री को एक और मौका दिया था।

दूसरे शक्ति परीक्षण में येदियुरप्पा 106 मत हासिल कर पाने में समर्थ रहे थे, जबकि उनके विरोध में 100 मत पड़े थे। उधर, विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए कर्नाटक उच्च न्यायालय ने कहा था कि विश्वास मत का नतीजा निर्दलियों की याचिकाओं पर होने वाले फैसले पर निर्भर करता है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.