ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

14 अप्रैल, 2010

चीन में जबर्दस्त भूकंप, 400 की मौत

चीन के सुदूर पश्चिमोत्तर प्रांत चिंग हाई में बुधवार को रिक्टर पैमाने पर 7.1 की तीव्रता के साथ आए विनाशकारी भूकंप से 400 लोगों की मौत हो गई और 10 हजार लोग घायल हो गए। इस दौरान न सिर्फ सैकड़ों मकान ढह गए बल्कि बाँधों में भी दरार पड़ गई।

भूकंप के बाद मिट्टी और लकड़ी से बने घर चरमराने लगे और दहशतजदा लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। अधिकतम वेग के भूकंप के बाद किंघाई तिब्बत पठार में रह रहकर भूकंप के हलके झटके महसूस होते रहे।

चीन के भूकंप विभाग के अधिकारियों ने बताया कि भूकंप से प्रभावित इलाकों में टेलीफोन की लाइने ठप्प हो गई हैं, जिससे राहत उपायों में बाधा आ रही है। राहतकर्मी एक जलाश्य से पानी निकालने की कोशिश कर रहे हैं, जहाँ भूकंप के कारण दरारें आ गई हैं।

जीगू कस्बे में, जहाँ भूकंप का केंद्र स्थित था, 85 प्रतिशत से अधिक मकान ढह गए और जो इमारतें खड़ी भी हैं, उनमें दरारें पड़ गई हैं। अधिकारियों को आशंका है कि मरने वालों की तादाद में इजाफा हो सकता है क्योंकि अभी बहुत से लोग मलबे के नीचे दबे हैं।

तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र युशु की सरकार के सहायक महासचिव हुआंग लिमिन ने बताया कि भूकंप के केंद्रबिंदु के आसपास के इलाकों में बहुत से लोग मलबे के नीचे दबे हैं।

चीन की आधिकारिक संवाद समिति शिन्ह्वा ने चिंघाई के प्रांतीय आपात कार्यालय के प्रवक्ता के हवाले से बताया कि करीब 700 सैनिक मलबा हटाने के काम में लगे हैं और एक हजार और लोगों को इस काम के लिए भेजा गया है।

युशु में सेना के अधिकारी यान जुंफू ने कहा ‍कि हमारी इकाई ने मलबे से नौ सौ से ज्यादा लोगों को निकाला है। किंघाई प्रांतीय सरकार ने राहतकर्मियों का पहला दल भेजा है, जिसमें 25 डॉक्टर और 65 दमकल कर्मी हैं।

तिब्बत जातीय समूह के प्रचार अधिकारी शुओहुआशिया ने बताया कि अभी ऐसे और भी बहुत से लोग हैं जो घायल हैं और जिनका स्थानीय अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.