ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

26 जुलाई, 2010

अंग्रेजी सीखकर कुली बनेंगे ‘जैंटलमैन’

राष्ट्रमंडल खेलों के मद्देनजर रेलवे जहाँ नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को चमकाने में लगा है, वहीं वह अंग्रेजी भाषा तथा ड्रेस पहनने का सलीका सिखाकर कुलियों को भी ‘जैंटलमैन’ बनाने जा रहा है।

रेलवे अधिकारियों ने बताया कि कुलियों को अपटूडेट बनाने के लिए इन दिनों दिल्ली रेलवे स्टेशन पर उनकी व्यक्तित्व विकास की कक्षाएँ ली जा रही हैं और जल्द ही किशनगंज के कस्टमर केयर इंस्टिट्यूट में उन्हें व्यावसायिक कक्षाओं में बैठाया जाएगा।

अधिकारियों का कहना है कि राष्ट्रमंडल खेलों से देश की छवि जुड़ी है, इसलिए नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को चमकाने के साथ ही कुलियों को भी तैयार किया जा रहा है।

उनका मानना है कि खेलों के दौरान बड़ी संख्या में विदेशी सैलानी नई दिल्ली रेलवे स्टेशन आएँगे। उन्हें कोई परेशानी न हो, इसलिए सभी तैयारियाँ की जा रही हैं।

उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी मनीष तिवारी का कहना है कि विदेशी सैलानियों की सुविधा के मद्देनजर कुलियों को अंग्रेजी सिखाई जा रही है ताकि वे विदेशी पर्यटकों से सामान उठाने और सामान के भाड़े आदि को लेकर अंग्रेजी में बात कर सकें।

अधिकारियों ने बताया कि इस समय दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गाजियाबाद, गुड़गाँव और फरीदाबाद के लगभग दो हजार कुली अंग्रेजी बोलने का प्रशिक्षण ले रहे हैं। यह संख्या अभी और बढ़ सकती है।

उन्होंने कहा कि कुलियों को उनके पेशे के दौरान अंग्रेजी में इस्तेमाल की जाने वाली पंक्तियाँ बड़े ध्यान से समझाई जा रही हैं।

कुलियों को अंग्रेजी बोलना ही नहीं बल्कि ड्रेस पहनने का सलीका भी सिखाया जा रहा है। उन्हें यह भी बताया जा रहा है कि राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान वे लाल रंग की एक जैसी कमीज पहनें।

अधिकारियों ने कहा कि वर्तमान में कोई कुली गहरे लाल रंग की कमीज पहनकर रखता है तो किसी के पास हल्के लाल रंग की कमीज होती है। राष्ट्रमंडल खेलों में ऐसा नहीं चलेगा और उन्हें एक रंग और एक डिजाइन के कपड़े पहनने होंगे। कुलियों को प्रशिक्षित करने के लिए व्यक्तित्व विकास से जुड़े बहुत से शिक्षक लगाए गए हैं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.