ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

29 मार्च, 2010

मॉस्को में दोहरा बम विस्फोट, 41 मरे

रूस की राजधानी मॉस्कबाधमाकोमें 41 लोगों की मौत हो गई। 20 अन्य घायल हो गए।

मास्को मेट्रो रेलवे की प्रवक्ता स्वेतलाना लुब्बींका ने इतर तास समाचार एजेंसी को बताया कि विस्फोट की पहली घटना शहर के मध्य लुबयंका मेट्रो स्टेशन पर सुबह सात बजकर 52 मिनट पर (स्थानीय समय) एक ट्रेन के दूसरे डब्बे में हुई, जिसमें लगभग 26 लोगों की मौत हो गई।

दूसरा विस्फोट पार्क कल्चुरी स्टेशन पर हुआ। पहले धमाके में जहाँ 26 लोगों की मौत हो गई, वहीं दूसरे धमाके में 15 लोग मारे गए। पहले धमाके में दस लोगों के घायल होने की खबर है

प्रवक्ता एरीना एंद्रीएनोवा के मुताबिक स्थानीय समयानुसार सुबह 07.56 बजे जैसे ही गाड़ी लुबयंका स्टेशन पर रुकी, इसके दूसरे डिब्बे में धमाका हुआ। गौरतलब है कि रूसी फेडरल सिक्योरिटी सर्विस का मुख्यालय लुबयंका स्टेशन पर ही स्थित है।

मरने वालों में ज्यादातर यात्री हैं। विस्फोट के चलते लुबयन्का मेट्रो स्टेशन से आने-जाने वाली सभी ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। आपातकालीन राहत कार्य शुरू कर दिए गए हैं। अभी तक किसी ने भी धमाकों की जिम्मेदारी नहीं ली है।


महिला आत्मघाती ने किए हमले : मॉस्को के मेयर ने दावा किया है कि दोनों बम धमाकों को किसी महिला आत्मघाती दस्ते ने अंजाम दिया है। गौरतलब है कि रूस में सन 2004 में भी धमाके हुए थे, जिसमें चालीस लोगों की मौत हो गई थी। उस वक्त भी हमले महिला आत्मघाती दस्ते ने ही किए थे

भारत ने की निंदा : भारत ने मॉस्को में हुए बम विस्फोटों की कड़ी निंदा की है। विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने अपने वक्तव्य में कहा है कि रूस भारत का अभिन्न मित्र है। भारत इस मुश्किल घड़ी में उसके साथ है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.