ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

14 फ़रवरी, 2010

तेलंगाना के15 विधायकों ने इस्तीफा दिया

अलग तेलंगाना राज्य की मांग के मद्देनजर केंद्र सरकार की ओर से गठित बीएन श्रीकृष्णा समिति के कार्यक्षेत्र को खारिज करते हुए तेलंगाना क्षेत्र के 15 विधायकों ने रविवार को आंध्रप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौंप दिया। जिन विधायकों ने इस्तीफा दिया है उनमें कांग्रेस के विधायक भी शामिल हैं।

तेलंगाना राष्ट्र समिति [टीआरएस] के 10, कांग्रेस के दो, भाजपा, प्रजाराज्यम और तेलुगु देशम पार्टी के एक-एक विधायकों ने रविवार को विधानसभा अध्यक्ष एन किरण के रेड्डी से मुलाकात कर अपना इस्तीफा उन्हें सौंप दिया। विधायकों ने कहा कि अलग तेलंगाना राज्य के गठन को लेकर केंद्र पर दबाव बढ़ाने के मकसद से उन्होंने इस्तीफा दिया है।

कांग्रेस विधायक आर दामोदर रेड्डी ने पत्रकारों को बताया कि हमने बिना शर्त इस्तीफा दिया है। हमने विधानसभाध्यक्ष से व्यक्तिगत तौर पर मुलाकात की। हमने उन पर इस्तीफा स्वीकार करने का जोर डाला। हमें उम्मीद है कि अन्य विधायक भी आज शाम या कल तक इस्तीफा दे देंगे। बहरहाल, कल देर रात इस्तीफे की घोषणा करने वाले कांग्रेस के दो विधायक आज विधानसभाध्यक्ष से मुलाकात के लिए नहीं आए। कल से शुरू हो रहे विधानसभा के बजट सत्र में शामिल होने के बाबत पूछे जाने पर रेड्डी ने कहा कि कहा कि वे इसमें शामिल नहीं होंगे।

टीआरएस विधायक और पार्टी अध्यक्ष के. चन्द्रशेखर राव के पुत्र के टी रामाराव ने कहा कि उनकी पार्टी अब लोगों के बीच जाएगी और अलग तेलंगाना राज्य के गठन के लक्ष्य को पूरा करने के लिए लगातार काम करेगी। सर्वदलीय तेलंगाना संयुक्त कार्य समिति ने कल विधायकों के इस्तीफे सौंपने का फैसला लिया था ताकि केंद्र सरकार पर अलग तेलंगाना राज्य के गठन को लेकर दबाव बढ़ाया जा सके।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.