ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

11 जनवरी, 2010

मलेशिया गए 40000 भारतीय लापता!

मलेशिया सरकार का कहना है कि देश में पर्यटक वीजा पर आए करीब 40000 भारतीय नागरिकों का अब उसके पास कोई अता-पता नहीं है और यह मामला प्रधानमंत्री मोहम्मद नहजी तुन रजा की आगामी भारत यात्रा के दौरान उठाया जा सकता है।

प्रधानमंत्री रजाक ने भारत से आए पत्रकारों के एक दल से बातचीत में कहा कि इसमें से ज्यादातर लोग तमिलनाडु के हैं। उन्होंने कहा कि करीब 39046 भारतीय लापता हैं। ये लोग मलेशिया में पहुँचने पर वीजा प्राप्त करने की सुविधा के तहत आए थे, हो सकता है कि वे वापस भारत चले गए हों या फिर यहीं लोगों के साथ रहने लगे हों। वे हमारे रिकॉर्ड में लापता हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम चाहते हैं कि भारत के लोग पर्यटन के लिए मलेशिया आएँ। हमारी व्यवस्था काफी उदार है। पर हम ईमानदार लोगों का स्वागत करना चाहते हैं। उनका बहुत-बहुत स्वागत है। नजीब 19 जनवरी को तीन दिन की यात्रा पर भारत जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली, मुंबई या बेंगलुरु से आए पर्यटकों से कोई समस्या नहीं है। समस्या केवल चेन्नई से आने वालों के साथ हो रही है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.