ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

07 अक्तूबर, 2009

फ्रांसीसी कंपनी ने खरीदा महात्मा गाँधी का घर

जोहानसबर्ग स्थित महात्मा गाँधी के सौ साल पुराने घर को फ्रांस की एक पर्यटन कंपनी ने खरीद लिया है। समझा जाता है कि इसे इस मकान को खरीदने के लिए सभी बोली लगाने वालों को पीछे छोड़ते हुए कंपनी ने लगभग दोगुने दाम में खरीद लिया है।

इस मकान की बोली लगाने के लिए तीन लाख 77 हजार 29 डॉलर कीमत निर्धारित की गई थी। पेरिस स्टॉक एक्सचेंज की सूची में शामिल विशेषज्ञ पर्यटन कंपनी वोयागेउर्स दा मुंडे ने इस मकान को खरीदा है। कंपनी इसे गाँधी संग्रहालय के रूप में बदलने की योजना बना रही है। कंपनी विश्वस्तर पर ऐसी विरासतों में अपना धन निवेश करती है।

युवा अधिवक्ता मोहनदास करमचंद गाँधी ने इस घर में 1908 से 1910 तक दो साल का समय बिताया था। इस घर को खरीदने के लिए कंपनी ने अन्य बोली लगाने वालों को पीछे छोड़ दिया। इसमें भारतीय और मलेशियाई कंपनियाँ भी शामिल थीं। भारत सरकार की ‘नवरत्न कंपनी' कोल इंडिया लिमिटेड भी इस संपत्ति के अधिग्रहण की इच्छुक थी।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.