ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

17 अक्तूबर, 2009

अगली जनगणना में फिंगरप्रिंट

दो साल बाद जब देश की जनसंख्या गिनी जाएगी तो सभी लोगों को अपने दस फिंगरप्रिंट (सभी अँगुलियों के) या फिर आँखों की स्केनिंग भी कराना होगी। सरकार के लिए अगली जनगणना महत्वाकांक्षी होगी। विशिष्ट पहचान पत्र (यूआईडी) के लिहाज से यह कदम उठाया जाएगा।

यह जानकारी भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के चेयरमैन नंदन निलेकणी ने दी। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि नरेगा के लिए पहला यूआईडी 18 से 24 माह में मिल जाएगा। अगले चार साल में 60 करोड़ लोगों को यह दिया जाना है।

बांग्लादेशियों के देश में आकर बसने के सवाल पर उन्होंने कहा कि 16 अंकों का यह नंबर किसी को भी नागरिकता या अन्य अधिकार नहीं देगा। इस योजना के लिए हजारों करोड़ लगेंगे। इसका वित्तपोषण कैसे होगा, इस पर फैसला होना है। उन्होंने इन खबरों को खारिज किया कि इस योजना में 1.5 लाख करोड़ व्यय होंगे।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.