ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

28 सितंबर, 2009

खूबसूरत-महंगे पूजा पंडाल

दुर्गा पूजा के समय भव्य और आकर्षक पंडाल के लिए पश्चिम बंगाल का कोलकाता चर्चित रहा है पर अब पटना में भी इस तरह के पंडाल अब बनाए जाने लगे हैं और यह कारोबार अब करोडों रूपए का है।

पटना में दुर्गा पूजा के आयोजन में करीब पांच सौ पूजा समितियां लगी हैं और इनके द्वारा एक-दूसरे को मात देने के लिए एक से बढकर एक पंडाल का निर्माण कराया गया है। इसकी भव्यता बिजली की आकर्षक सजावट और मां दुर्गा की सुंदर मूर्तियां देखते ही बनती है।

इन पूजा समितियों द्वारा मूर्तिकारों को बंगाल से बुलाया जाता है जबकि लाइटिंग के स्पेशल इफेक्टस एवं पंडालों की सजावट के लिए भी बंगाल व झारखंड से इस क्षेत्र में महारत रखने वाले कारीगर बुलाए जाते हैं।

एक आकलन के मुताबिक इन पूजा समितियों द्वारा मां दुर्गा की सुंदर मूर्तियों और पंडाल के निर्माण तथा बिजली की आकर्षक सजावट पर इस बार करीब 15 करोड रूपए खर्च किए गए हैं।

हालांकि प्रशासन से अनुमति लेने वाले पंडालों की तादाद 350 ही है पर पटना सिटी से दानापुर तक इस बार 517 पंडाल बने हैं। इनमें से 320 पंडालों ने पेसू से बिजली कनेक्शन लिया है।

पूजा समितियां हालांकि खर्च का असली ब्योरा देने से परहेज करते हैं पर कृष्णापुरी दुर्गा समिति के अरविंद सिंह कहते हैं कि पूजा पंडाल और मूर्ति की स्थापना के लिए लोग दिल खोल कर दान देते हैं। इस बार मूर्ति निर्माण और बिजली साज-सज्जा सहित उनके पंडाल का बजट तीन लाख रूपए का है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.