ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

07 सितंबर, 2009

लोक लेखा समिति की बैठक आज लेंगे जसवंत

जसवंत सिंह आज लोक लेखा समिति की बैठक लेंगे. बीजेपी से निकाले जाने के बाद जसवंत की ये पहली बैठक है. इस समिति में बीजेपी के दो सदस्य हैं. देखना दिलचस्प होगा कि बीजेपी के सदस्य इस बैठक में शामिल होते हैं या नहीं क्योंकि बीजेपी पहले ही साफ कर चुकी है कि जसवंत को पीएसी से इस्तीफा देना चाहिए.
पीएसी के अध्‍यक्ष हैं जसवंत सिंह
गौरतलब है कि जसवंत पीएसी के अध्यक्ष हैं. बीजेपी के सामने मुश्किल ये है कि लोक लेखा समिति में उसके दो सदस्य हैं,जसवंत सिन्हा और गोपीनाथ मुंडे. सवाल उठता है कि क्या बीजेपी अब जसंवत की अगुवाई वाली समिति में हिस्सेदारी करेगी? बीजेपी इसी परेशानी को टालना चाहती थी. इसके लिए पार्टी ने सुषमा स्वराज और एस एस अहलूवालिया को जसवंत के घर मनाने भी भेजा था लेकिन जसवंत लोकलेखा समिति छोड़ने को टस से मस नहीं हुए. अब उन्हें हटाने का अख्तियार सिर्फ और सिर्फ लोकसभा अध्यक्ष के पास ही है.
किताब में की थी जिन्‍ना की तारीफ
गौरतलब है कि अपनी हालिया प्रकाशित किताब में जसवंत ने जिन्ना की तारीफ की थी और देश विभाजन के दोषियों में सरदार पटेल का नाम भी गिना दिया था. इसी से खफा होकर बीजेपी ने जसवंत को पार्टी से निकाल दिया. बेशक जसवंत से बीजेपी ने पीछा छुड़ा लिया है, लेकिन जसवंत से जुड़ी उसकी मुश्किल खत्म नहीं हुई है.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.