ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

14 सितंबर, 2009

गुजरात में पाँच सीटों पर भाजपा का कब्जा

लोकसभा चुनाव में पुरी तरह लुट चुकी भाजपा के लिए विधानसभा के उपचुनाव खुशी की लहर लेकर आए। राज्य में दस दिसंबर को सात सीटों पर हुए उपचुनाव में से पाँच पर कमल खिला है। दो पर कांग्रेस जीती है। इसे मोदी के लिए बड़ी कामयाबी माना जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि सात में से छह सीटें कांग्रेस के पास थी। सिर्फ एक पर भाजपा का कब्जा था। राज्य की सात विधानसभा सीटों के लिए दस सितंबर को मतदान हुआ था। कांग्रेस ने धोराजी विधानसभा सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। इस सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी जयेश रदादिया ने अपने निकटतम प्रतिद्वन्द्वी जयसुख थेसिया को 15,988 मतों के अंतर से हराया।

जसदान सीट भाजपा ने कांग्रेस के हाथों से छीन ली है। इस सीट पर भाजपा के भरत भोगरा ने अपनी निकटतम प्रतिद्वन्द्वी कांग्रेस की भावना बावलिया को 14,774 मतों के अंतर से हराया।

धोराजी विधानसभा सीट से कांग्रेस के विधायक विट्ठल रदादिया ने पोरबंदर लोकसभा सीट से चुनाव जीत लिया, जिसके बाद इस विधानसभा सीट पर उपचुनाव कराना पड़ा। कांग्रेस ने यहाँ से रदादिया के पुत्र को टिकट दिया था।

बहरहाल, कांग्रेस को अपने गढ़ जसदान में झटका लगा है। आजादी के बाद इस सीट से कभी न हारने वाली कांग्रेस के हाथों से इस बार यह सीट निकल गई। इस सीट पर भाजपा प्रत्याशी की विजय हुई है।

जसदान सीट से कांग्रेस के विधायक कुवेरजी बावलिया राजकोट सीट से लोकसभा के लिए निर्वाचित हो चुके हैं, जिसकी वजह से इस सीट पर उपचुनाव कराया गया। धोराजी और जसदान के अलावा, देहगाम, दांता, सामी, कोडिनार और चोटिला सीट के लिए भी उपचुनाव कराया गया।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.