ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

20 अगस्त, 2009

हत्या केआरोप में पूर्व सांसद गिरफ्तार

पूर्व सांसद विजय कृष्ण को बिहार के जदयू नेता और ट्रांसपोर्टर सत्येंद्र सिंह की हत्या के आरोप में गुरुवार को फरीदाबाद में गिरफ्तार कर लिया गया। बिहार के बाढ़ से सांसद रह चुके विजय कृष्ण को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बिहार पुलिस के साथ दबिश में पकड़ा। वह किराए के मकान में रह रहे थे।

पटना पुलिस में गत 24 मई को जदयू नेता सत्येंद्र सिंह की हत्या के मामले में पूर्व सांसद विजय कृष्ण और उनके पुत्र चाणक्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। राजद टिकट पर जीते विजय कृष्ण नए परिसीमन में बाढ़ संसदीय सीट समाप्त होने के बाद जदयू में आ गए थे। उनके खिलाफ गिरीश सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उनका भाई सत्येंद्र सिंह पूर्व सांसद विजय कृष्ण से मिलने पटना के बोरिंग कैनाल रोड स्थित झूला अपार्टमेंट गया था। लेकिन वापस नहीं लौटा। उन्होंने जब विजय कृष्ण से इस संबंध में पूछताछ की तो उन्हें बताया गया कि सत्येंद्र सिंह को विजय कृष्ण ने बोरिंग रोड पर छोड़ दिया था।

बाद में सत्येंद्र का शव गंगा नदी से बरामद हुआ था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला कि मौत सिर में गोली लगने से हुई थी। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से विजय कृष्ण फरार हो गए। उनके फ्लैट की तलाशी में पुलिस को खून के निशान भी मिले थे। पटना पुलिस ने इस मामले में दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए काफी प्रयास किए। लेकिन उनका कोई सुराग नहीं लगा।

इस दौरान पता चला कि विजय कृष्ण एनसीआर में छिपे हुए हैं। इस जानकारी के आधार पर बिहार की पुलिस टीम ने दिल्ली आकर पुलिस अधिकारियों से संपर्क किया तथा गिरफ्तारी में मदद मांगी। इसके बाद स्पेशल सेल की टीम ने फरीदाबाद में किराए के मकान में रह रहे विजय कृष्ण को दबोच लिया। इस दौरान पटना पुलिस भी साथ थी।

गिरफ्तारी के बाद विजय कृष्ण को तीसहजारी स्थित सीएमएम की कोर्ट में पेश किया गया। अदालत ने उन्हें 22 दिन की ट्रांजिट रिमांड पर बिहार पुलिस को सौंप दिया। देर शाम पुलिस टीम पूर्व सांसद को लेकर बिहार रवाना हो गई।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.