ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

21 अप्रैल, 2009

पांच हथियार तस्कर गिरफ्तार

लोकसभा चुनाव में अपराधियों के खूनी खेल की मंशा को नाकाम करते हुए पांच हथियार तस्करों को आ‌र्म्स के साथ गिरफ्तार करने में भागलपुर पुलिस ने सफलता पायी है। संयोग था कि पुलिस को इसकी खुफिया जानकारी मिली। दबोचे गए सभी अपराधी नवगछिया पुलिस जिला के हैं। सुमन कुमार राय उर्फ कारे राय, अविनाश राय, सूरज कुमार राय व निरंजन झा तथा बभनगामा का कुंदन कुमार मिश्रा गिरफ्तार हथियार तस्करों में शामिल हैं।

पुलिस कप्तान ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली कि भारी मात्रा में हथियार लेकर अपराधी जा रहे हैं। इस सूचना पर गठित पुलिस टीम ने अलग-अलग क्षेत्रों में छापेमारी कर पांच युवकों को पकड़ा। पुलिस ने उसके पास चैम्बर युक्त चार नाइन एमएम का रिवाल्वर, तीन अतिरिक्त चैम्बर, दो कट्टा तथा तीन कारगर कारतूस बरामद की। बरामद कारतूस में एक नाइन एमएम व दो 315 बोर का कारतूस शामिल है। सुमन, सूरज और अविनाश को पुलिस ने जबारीपुर हवाईअड्डा के पास तथा कुंदन व निरंजन झा को मुस्लिम स्कूल के पास से गिरफ्तार किया गया है। बरामद प्रतिबंधित रिवाल्वरों पर 'मेड इन इटली' व 'मेड इन यूएसए' लिखा हुआ है। तिलकामांझी थानाध्यक्ष संजय कुमार विश्वास, तातारपुर थानाध्यक्ष मनोरंजन कुमार भारती, सबौर थानाध्यक्ष केपी सिंह तथा जीरोमाइल थानाध्यक्ष अरूण कुमार मंडल सहित सैप के जवान छापेमारी में शामिल थे। गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि प्रतिबंधित हथियार मुंगेर जिले के बरियारपुर से पंद्रह से बीस हजार रुपए में खरीदी गई है। इन हथियारों का उपयोग चुनाव में बेचने के लिए किया जाने वाला था।

पुलिस अधीक्षक श्री मीणा ने सोमवार को पत्रकारों को बताया कि चुनाव में अपराधियों द्वारा हथियार व विस्फोटक पदार्थ के व्यवसाय तथा आवाजाही को रोकने के लिए पुलिस पदाधिकारियों को सतर्क कर दिया गया है। एसपी ने माना कि युवकों का ताल्लुकात किसी सिंडिकेट या बड़े गिरोहों से है। इसका संबंध नेपाल, बिहार, बंगाल, झारखंड तथा अन्य प्रदेशों से जुड़ा हुआ है। एसपी ने बताया कि गिरोह के सदस्य बड़े पैमाने पर हथियार की तस्करी करते हैं। युवकों का ताल्लुकात सफेदपोश से है इसकी तहकीकात की जा रही है। पूछताछ में कई महत्वपूर्ण जानकारी पुलिस को मिली है पर एसपी ने इसे सार्वजनिक करने से इनकार किया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों में सुमन राय और सूरज राय का अपराधिक चरित्र रहा है। दस दिनों पूर्व सुमन ने यहां से दो मोटरसाइकिलें चुराई थी जिसे साहिबगंज के राजमहल निवासी मुहर्रम के पास पांच-पांच हजार रुपए में बेचा है। सुमन और सूरज मोटरसाइकिल चोरी व लूट मामले में जेल भी जा चुका है। पूछताछ जारी है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.