ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

19 अप्रैल, 2009

वोट उसी को देंगे, जो क्षेत्र का विकास करेगा

नवगछिया अनुमंडल मुख्यालय से लगभग 12 किलोमीटर की दूरी पर है इस्माईलपुर प्रखंड। प्रखंड कार्यालय नवगछिया में ही चलता है। कारण यहां पहुंचना 'कारगिल' पहुंचने जैसा ही है। सड़क जानलेवा है। धूल के गुबार के बीच कच्ची सड़कों पर कब वाहन फंस जाए और आपकी यात्रा रुक जाए, कहना मुश्किल है। भिट्ठी गांव के ज्योति प्रसाद यादव व्यंग्यात्मक लहजे में कहते हैं-'अभी भी बैलगाड़ी हमारे लिए भरोसे की सवारी है। जल्दी हो तो पैदल जाएं।' इस्माईलपुर निज टोला के रहने वाले महादेव मंडल और वकील साह पेशे से शिक्षक हैं। वे बताते हैं कि बाढ़ यहां के लिए वरदान है। लोगों के घर अनाजों से भर जाते हैं। सड़क की खराब स्थिति के कारण पूरे क्षेत्र का विकास बाधित है। किसान औने-पौने दामों पर अपनी उपज बेच रहे हैं। गांव में मात्र सात सौ रुपये क्िवटल पर मकई खरीदा जा रहा है। अगर यातायात का सुगम साधन हो वे अपनी फसल को बाजार तक ले जा सकते हैं। गोपाल मंडल बताते हैं-'अभी तक कोई वोट मांगने नहीं आया है। हमने तय कर लिया है वोट उसी को देंगे, जो क्षेत्र का विकास करेगा।'

हमलोग मतदान में निर्णायक की भूमिका निभाएंगे।'

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.