ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

22 जुलाई, 2012

राहुल के नेतृत्व में आम चुनाव लड़े कांग्रेस

राहुल गांधी के बड़ी भूमिका के लिए तैयार होने की बात कहते ही सभी दिग्गज कांग्रेसियों ने एक-दूसरे के सुर में सुर मिलाते हुए अगला आम चुनाव उनके नेतृत्व में ही लड़ने का राग अलापना शुरू कर दिया है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अपने दो दौर पूरे कर रहे हैं। अब कांग्रेस को वर्ष 2014 का लोकसभा चुनाव राहुल के नेतृत्व में ही लड़ना चाहिए। कुछ ऐसी ही पैरोकारी ऑस्कर फर्नाडिस, वीरप्पा मोइली, दिग्विजय सिंह और सुबोध कांत सहाय ने भी की है।

बहुगुणा ने कहा कि राहुल को पूरे देश से स्वीकार्यता मिल रही है। ऐसे में वही भविष्य के प्रधानमंत्री के तौर पर पेश किए जाने के लिए सबसे बेहतर विकल्प हैं। जब उनसे पूछा गया कि राहुल को कौन सी जिम्मेदारी लेनी चाहिए, तो वरिष्ठ कांग्रेस नेता कहा कि उन्हें सरकार और पार्टी दोनों में सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए। कुछ इसी अंदाज में वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ऑस्कर फर्नाडिस ने कहा कि राहुल हमें नेतृत्व प्रदान करेंगे। वहीं, कंपनी मामलों के मंत्री एम वीरप्पा मोइली ने कहा कि अब राहुल को निर्णायक भूमिका में आना ही होगा। उन्होंने कहा कि राहुल ने पार्टी को काफी समय दिया है और वह देश के युवाओं में काफी उत्साह भर चुके हैं। अब पूरा देश चाहता है कि वह ज्यादा सक्रिय भूमिका में नजर आएं।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि गांधी परिवार ने देश को जितना दिया है, उतना देश से लिया नहीं है। उन्होंने कहा कि इस परिवार ने देश के लिए बड़े बलिदान किए हैं और दो बड़े नेताओं को न्योछावर किया है। केंद्रीय पर्यटन मंत्री सुबोध कांत सहाय ने राहुल गांधी द्वारा संगठन की कमान पूरी तरह संभालने की पैरोकारी की। उन्होंने कहा कि इससे देश भर में कांग्रेस मजबूती से आगे बढ़ेगी। साथ ही 2014 के लोकसभा चुनाव में केवल यूपी में ही नहीं पूरे देश में बेहतर परिणाम आएंगे।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.