ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

01 नवंबर, 2010

आलू से निकला पानी आएगा पीने के काम!

लंदन। आलू का प्रयोग अब सिर्फ समोसे और सब्जी तक सीमित नहीं रहेगा। इसमें पाया जाने वाला पानी पीने के भी काम आ सकेगा। अगर सब कुछ ठीक रहा, तो वह दिन दूर नहीं जब आलू से निकलने वाले पानी की नलों में सप्लाई होगी।

दुनिया भर में विख्यात एक कोल्ड ड्रिंक और स्नैक बनाने वाली कंपनी के इंजीनियर इस पर काम कर रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई है कि आलू में मौजूद पानी की मात्रा को इस तरह एकत्रित किया जाएगा कि फैक्ट्री और आस-पास के इलाकों में इसकी पेयजल के रूप में आपूर्ति की जा सकेगी। यद्यपि इससे पहले पानी को शुद्ध किया जाएगा।

इस कंपनी ने हाल ही में लंदन में दीर्घकालिक खेती के लिए अपनी रिपोर्ट पेश की है। इसके मुताबिक आलू में 75 प्रतिशत पानी होता है। जो उसके स्नैक्स बनाने की प्रक्रिया में बेकार चला जाता है। अत: इस पानी का दोहन कर इसे पुन: काम में लाया जा सकता है।

कंपनी के अनुसार, 'आलू के टुकड़ों को क्रिस्प बनाने से पहले पानी में उबाला जाता है। उस दौरान पानी वाष्प बनकर चिमनी से फैक्ट्री की छतों पर बूंदों के रूप में दिखता है। हम इस पानी को एकत्र करने की तैयारी में हैं।'

लंकाशायर के स्केलमरडेल में अपना नया संयंत्र लगा रही कंपनी ने हर घंटे अपनी चिमनी से करीब तीन हजार लीटर पानी संग्रहित करने की उम्मीद जताई है। उसके मुताबिक वाष्प से प्राप्त जल शुद्ध होता है, लेकिन फिर से इस्तेमाल करने के लिए उसका पुन: शोधन किया जाएगा।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.