ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

18 सितंबर, 2010

अयोध्या में सुरक्षा बलों का फ्लैग मार्च

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि एवं बाबरी मस्जिद परिसर के मालिकाना हक के बारे में उच्च न्यायालय के लखनऊ पीठ के 24 सितम्बर को आने वाले फैसले के मद्देनजर शनिवार को अयोध्या और उसके आस पास के क्षेत्रों में सुरक्षा बलों ने फ्लैग मार्च किया।

फ्लैग मार्च में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल, प्रान्तीय सशस्त्र पुलिस बल, पीएसी और स्थानीय पुलिस बलों में भाग लिया। फ्लैग मार्च अयोध्या के साथ-साथ फैजाबाद नगर और आस पास के संवेदनशील कस्बों में भी हुआ।

अयोध्या एवं फैजाबाद में आज सभी सुरक्षाबलों की कंपनियों ने फ्लैग मार्च किया जिसमें वज्र वाहन, दंगा नियंत्रक वाहन, पेट्रोल कार, अग्निशमन वाहन, एम्बुलेन्स, घुड़सवार पुलिस बल ने भाग लिया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरकेएस राठौर ने बताया कि अयोध्या, फैजाबाद एवं आसपास के संवेदनशील कस्बों में फ्लैग मार्च का एक मात्र मकसद शांति बनाए रखना है।

उन्होंने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए दस कम्पनी केन्द्रीय पुलिस बल, 24 कम्पनी पीएसी, पाँच हजार होमगार्ड, 40 कम्पनी डिस्ट्रिक आर्म्स पुलिस सहित एक हजार कांस्टेबल लगाए जा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में भी पुलिस बल तैनात किया जा रहा हैं। अयोध्या एवं फैजाबाद के चारों तरफ लगे बैरियर पर पुलिस बल तैनात करके तलाशी लेने के उपरान्त ही प्रवेश दिया जा रहा है।

शांति बनाए रखें : अध्यक्ष शरद यादव ने 24 सितंबर को अयोध्या विवाद के संभावित फैसले को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों से इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले को मानने एवं देश की जनता से शांति बनाए रखने तथा अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.