ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

25 जुलाई, 2010

चौराहे पर खड़े होकर मिली नौकरी

लंदन। कहते हैं किस्मत से ज्यादा और समय से पहले कुछ नहीं मिलता। इस कहावत का सटीक उदाहरण ब्रिटेन में देखने को मिला। लंदन में एक बेरोजगार युवक दो साल से नौकरी के तलाश में था, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। जब वह दफ्तर-दफ्तर चक्कर काट कर थक गया, तो उसने अनोखा तरीका खोजा। वह शहर के एक व्यस्त चौराहे पर 'प्लीज गिव मी अ जॉब' [कृपया मुझे नौकरी दें] लिखा साइन बोर्ड लेकर खड़ा हो गया और उसे मात्र तीन घंटे में नौकरी मिल गई।

23 साल के मार्क ह्वील्डन को टिंबर फैक्ट्री के निदेशक विन्स चैंपियन ने एक शानदार नौकरी का प्रस्ताव पेश किया। जब चैंपियन ने ह्वील्डन को चौराहे पर देखा, तो वे उसके पास पहुंचे। लगे हाथ उन्होंने मार्क का साक्षात्कार लिया और बीस मिनट में नौकरी दे दी। गुरुवार से उसने नई नौकरी शुरू कर दी।

ह्वील्डन इससे पहले मैकेनिक, पेंटर और डेकोरेटर का भी काम कर चुका है। उसने बताया, 'मुझे नौकरी की सख्त जरूरत थी। दो साल मैंने पूरे शहर की खाक छानी। उस पर मुझे मेरी बीमार पार्टनर की भी देखभाल करना पड़ती थी। ऐसे में सरकारी भत्तों से मेरा काम नहीं चल रहा था। इसलिए मैंने नौकरी ढूंढने के लिए यह तरीका अपनाया।'

उसने बताया, 'एक पूरी रात मैंने यही सोचने में निकाल दी कि नौकरी पाने के लिए क्या तरीका अपनाऊं। तब मुझे यह आइडिया आया। लेकिन बारिश ने मुझे रोकने की कोशिश की। फिर भी में सड़क पर खड़ा रहा। जब टिंबर कंपनी के निदेशक मेरे पास आकर रुके, तो मेरी खुशी का ठिकाना नहीं था। ..खैर मुझे उम्मीद नहीं थी कि इस तरीके से मुझे इतनी जल्दी नौकरी मिलेगी।'

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.