ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

01 फ़रवरी, 2010

मुंबई केवल मराठियों की नहीं-चिदंबरम

शिवसेना की ‘मुंबई मराठियों की’ दलील को ‘घातक सिद्धांत’ बताकर खारिज करते हुए केन्द्र ने सोमवार को कहा कि देश की यह वित्तीय राजधानी सभी भारतीयों के लिए है और वे सब वहाँ रहने तथा कार्य करने को स्वतंत्र हैं।

आईपीएल क्रिकेट प्रतियोगिता के तहत मुंबईClick here to see more news from this city में होने वाले मैचों में ऑस्ट्रेलियाई और पाकिस्तानी खिलाड़ियों को नहीं खेलने देने की शिवसेना की धमकी पर गृहमंत्री पी. चिदंबरम ने कहा कि हम खिलाड़ियों को पूरी सुरक्षा उपलब्ध कराएँगे।

उन्होंने कहा कि हम शिवसेना के मत को खारिज करते हैं। मुंबई पूरे भारत की है और सभी भारतीय मुंबई में रहने और रोजी कमाने के लिए स्वतंत्र हैं। चिदंबरम ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार किसी भी स्थिति से निपटने में सक्षम है और अगर उसे किसी मदद की जरूरत हुई तो केन्द्र उपलब्ध कराएगा।

उन्होंने कहा कि जहाँ तक नीतिगत मामला है, तो हम शिवसेना और एमएनएस के मतों को पूरी तरह खारिज करते हैं। ये घातक सिद्धांत है और उसे ठुकराया ही जाना चाहिए।

बाल ठाकरे और राज ठाकरे की पार्टियों की धमकी के चलते आईपीएल में खेलने वाले ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के खिलाड़ियों को सुरक्षा के बारे में पूछे जाने पर चिदंबरम ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को भारत आने दीजिए। पाकिस्तानी खिलाड़ियों को भारत आने दीजिए। उन्हें मुंबई में खेलने दीजिए और मैं उन्हें पूर्ण सुरक्षा की गारंटी दूँगा।

शिवसेना ने कहा है कि उसके कार्यकर्ता ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को आईपीएल मैंचों में मुंबई में नहीं खेलने देंगे। उसका कहना है कि ऑस्ट्रेलिया में भारतीयों पर हो रहे हमलों के विरोध में उसने ऐसा करने का फैसला किया है।

यह पार्टी पाकिस्तान के साथ भी खेल संबंधों का इस आधार पर विरोध कर रही है कि पड़ोसी देश भारत विरोधी आतंकवादियों को शह दे रहा है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.