ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

07 जनवरी, 2010

शिक्षा ने दिलाया अमेरिका में सम्मान : डा. महेश


अमेरिका में मेरा आज जो भी सम्मान है, उसके शिक्षा की वो डोर है, जिसे पकड़कर मैं हमेशा आगे बढ़ता गया। शिक्षा से ही सम्मान और पैसा दोनों मिलता है। शिक्षा के माध्यम से ही अब्दुल कलाम भारत के राष्ट्रपति और मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बने। उक्त बातें अमेरिका से अपने पैतृक घर नवगछिया आए डा. महेश यादुका ने गुरुवार को अपने गुरू सदानंद ठाकुर द्वारा संचालित शोभा देवी सरार्फ पब्लिक स्कूल में आयोजित शिक्षा विकास कार्यक्रम के दौरान कही। इस मौके पर उन्होंने बच्चों से अपनी भाषा और गणित ठोस करने को कहा। साथ ही इस स्कूल में प्रथम आने वाले दो बच्चों की पढ़ाई में आने वाले खर्च का वहन एक साल तक करने की घोषणा की। कार्यक्रम में प्राचार्य सदानन्द ठाकुर, कृष्ण कुमार, वीणा यादुका, पुरुषोत्तम यादुका, पूजा यादुका आदि लोग उपस्थित थे। इस दौरान बच्चों के बीच टाफी भी बांटी गई।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.