ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

25 दिसंबर, 2009

आंध्र के 13 मंत्रियों ने सोनिया को इस्तीफा भेजा

तेलंगाना मामले में संकट और गहराता नजर आ रहा है, आंध्रप्रदेश सरकार के 13 मंत्रियों ने अपना इस्तीफा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी को फैक्स कर दिया है। इस बीच अलग राज्य के समर्थकों ने वाहनों में आग लगा दी और कई क्षेत्रों में हिंसा और उत्पात मचाया।

तेलंगाना क्षेत्र के इन मंत्रियों के बारे में कहा गया है कि उन्होंने अलग राज्य के मुद्दे पर सरकार से इस्तीफा दिया है। मंत्रियों ने शुक्रवार को सचिवालय में मुख्यमंत्री के रोसैया से मुलाकात की और उन्हें अपने निर्णय से अवगत कराया।

बाद में पी. लक्ष्मैया, सबिता रेड्डी, डी. श्रीधर बाबू और अन्य मंत्रियों ने कहा कि उन्होंने केंद्र से आग्रह किया कि अलग तेलंगाना राज्य के गठन के लिए वह स्पष्ट रूप से एक समय सीमा निर्धारित करने की घोषणा करें।

उन्होंने कहा कि गृहमंत्री पी. चिदंबरम का 23 दिसंबर का वह बयान भ्रम में डालने वाला है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अलग राज्य के गठन के मुद्दे पर की गई घोषणा के बाद राज्य में स्थिति खराब हुई है। उन्होंने यह भी कहा कि वह सोनिया गाँधी से मुलाकात करने के लिए जल्दी वक्त चाहते हैं।

पार्टी के रुख में बदलाव नहीं : तेलंगाना क्षेत्र के 13 कांग्रेसी मंत्रियों द्वारा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को इस्तीफा भेजे जाने के बाद राजनीतिक संकट गहराने के बीच केंद्र ने उन्हें शांत करने का प्रयास करते हुए कहा कि राज्य के मुद्दे पर उसके रुख में कोई बदलाव नहीं आया है।

आंध्रप्रदेश के पार्टी प्रभारी कानून मंत्री एम. वीरप्पा मोइली ने कहा कि तेलंगाना मुद्दे पर केंद्र सरकार के रवैए में कोई बदलाव नहीं आया है। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश की अन्य पार्टियों ने अलग राज्य के मुद्दे पर 'यू टर्न' लिया है, जिन्होंने राज्य के विभाजन संबंधी प्रस्ताव का विधानसभा में समर्थन करने का वादा किया था।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.