ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

11 सितंबर, 2009

बड़ी मुश्किल से टीम इंडिया को मिली जीत

आसान से लक्ष्य के आगे शीर्ष क्रम के असहाय खेल के बाद टीम इंडिया ने कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और सुरेश रैना के बीच पांचवें विकेट के लिए हुए नाबाद अर्धशतकीय साझेदारी की बदौलत त्रिकोणीय वनडे सीरीज के दूसरे मुकाबले में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हरा दिया। भारत ने 156 रन का लक्ष्य 41वें ओवर में हासिल किया।

टीम इंडिया के लिए रैना ने नाबाद 45 और धौनी ने नाबाद 35 रन का योगदान दिया। सचिन तेंदुलकर ने सर्वाधिक 46 रन बनाए। राहुल द्रविड़ लंबे समय बाद वनडे क्रिकेट में वापसी को यादगार नहीं बना पाए और 14 रन पर ही पवेलियन लौट गए। डेनिएल विटोरी ने दो और काइल मिल्स व जैकब ओराम ने 1-1 विकेट झटके। इससे पूर्व आशीष नेहरा और युवराज सिंह की अगुवाई में भारत ने न्यूजीलैंड को 46.3 ओवर में 155 रन पर ढेर कर दिया।

दिनेश कार्तिक [4] ने सचिन तेंदुलकर के साथ भारतीय पारी का आगाज किया। अभी टीम के स्कोर में मात्र सात रन ही जुड़े थे कि कार्तिक अंपायर कुमार धर्मसेना के गलत फैसले का शिकार हो गए। अंपायर ने काइली मिल्स की अपील पर बाहर जाती गेंद पर कार्तिक को एलबीडब्ल्यू करार दे दिया। कार्तिक के बाद लगभग डेढ़ साल बाद वनडे मैचों में वापसी करने वाले राहुल द्रविड़ क्रीज पर आए। तेज गेंदबाज शेन बांड ने शुरू में द्रविड़ को खासा परेशान किया लेकिन धीरे-धीरे वह सहज होकर खेलने लगे। तेंदुलकर [46] और द्रविड़ [14] ने दूसरे विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी निभाई। द्रविड़ ओराम की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए।

इसके बाद युवराज सिंह [8] भी ज्यादा देर तक क्रीज पर टिके नहीं रह सके। विटोरी की गेंद पर लंबा शाट खेलने के प्रयास में युवराज गुप्टिल को कैच थमा बैठे। 84 रन पर चार विकेट गंवाकर संकट में दिख रही टीम इंडिया को कप्तान धौनी और रैना ने बेहतरीन साझेदारी कर टीम को लक्ष्य के निकट पहुंचाया।

इससे पहले नेहरा ने अपने शुरुआती दो ओवरों में ही दो विकेट निकालकर न्यूजीलैंड पर जो कहर बरपाया उससे वह आखिर तक नहीं उबर पाए। बाएं हाथ के इस गेंदबाज ने 24 रन देकर तीन जबकि युवराज ने 31 रन देकर तीन विकेट लिए। ईशांत शर्मा और आरपी सिंह को दो-दो विकेट मिले।

न्यूजीलैंड के कप्तान डेनियल विटोरी का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसको भारतीय गेंदबाजों ने गलत साबित करने में देर नहीं लगाई तथा 21वें ओवर तक जब स्कोर बोर्ड पर 66 रन दर्ज थे उसकी आधी टीम पवेलियन भेज दी। उसके पांच बल्लेबाजों ने 20 से अधिक रन बनाकर अच्छी शुरुआत की लेकिन वे इसे बड़े स्कोर में तब्दील करने में नाकाम रहे। न्यूजीलैंड की तरफ से विटोरी ने सर्वाधिक 25 रन बनाए। न्यूजीलैंड के बल्लेबाज प्रेमदासा स्टेडियम की उछाल लेने वाली पिच पर श्रीलंका के खिलाफ पहले मैच में भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे और उसकी टीम 217 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए केवल 119 रन पर ढेर हो गई थी।

नेहरा ने मैच की तीसरी गेंद पर ही जेसी राइडर फिर अपने अगले ओवर में ब्रैंडन मैक्कुलम को आउट करके कीवी खेमे में तहलका मचा दिया। इसी के साथ उन्होंने मैक्कुलम को आउट करके एकदिवसीय क्रिकेट में अपने 100 विकेट भी पूरे किए। इस मुकाम पर पहुंचने वाले वह भारत के 13वें और दुनिया के 95वें गेंदबाज हैं। नेहरा ने इन दोनों बल्लेबाजों को एलबीडब्ल्यू किया। राइडर फुललेंथ गेंद को एक्रास द लाइन खेलने के प्रयास में चूक गए और अंपायर कुमार धर्मसेना ने उंगली उठाने में कोई देर नहीं लगाई। मैक्कुलम भी बाएं हाथ के इस गेंदबाज की सीधी गेंद को नहीं समझ पाए और केवल तीन रन बनाकर पवेलियन लौटे। इससे न्यूजीलैंड का स्कोर दो विकेट चार रन हो गया।

न्यूजीलैंड शुरू में मिले इन दोनों झटकों से आखिर तक नहीं उबर पाया। रास टेलर [11] ने चौथे ओवर में आरपी सिंह पर दो चौके लगाकर कुछ आस जगाई लेकिन इसी गेंदबाज के अगले ओवर में ऑफ स्टंप के बाहर निकलती तेज गेंद को अनमने ढंग से खेलने का उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ा जो उनके बल्ले को चूमती हुई विकेटकीपर महेंद्र सिंह धौनी के हाथों में समा गई। भारत को अगले आठ ओवर में जब सफलता नहीं मिली तो धौनी ने पावरप्ले में ही कामचलाऊ स्पिनर युवराज को गेंद सौंप दी और उन्होंने अपने पहले ओवर में ही मार्टिन गुप्टिल [22] को पहली स्लिप में राहुल द्रविड़ के हाथों कैच करा दिया। दो साल बाद टीम में वापसी करने वाले द्रविड़ ने जमीन से चिपकता हुआ कैच लिया। गुप्टिल ने इससे पहले ओवर में ईशांत शर्मा पर दो चौके जड़कर रन गति तेज करने की कोशिश की थी।

युवराज ने इसके बाद ग्रांट एलियट [22] को आउट कर नील ब्रूम [21] के रूप में अपना तीसरा विकेट लिया। बू्रम ने शार्ट पिच गेंद को तेज हिट करने के प्रयास में मिडविकेट पर सुरेश रैना को आसान कैच थमाया। इस बीच जैकब ओरम ने क्रीज पर टिककर खेलने की रणनीति अपनाई और कुछ आकर्षक शॉट लगाए लेकिन यह आलराउंडर ईशांत शर्मा की धीमी गेंद पर गच्चा खा गया और वापस गेंदबाज को कैच देकर पवेलियन लौटा। ओरम ने 45 गेंद पर 24 रन बनाए जिसमें दो चौके शामिल हैं। आरपी सिंह ने काइल मिल्स को अधिक देर तक नहीं टिकने दिया जबकि ईशांत ने विटोरी की गिल्लियां बिखेरकर उनके एक घंटे से अधिक समय तक चले संघर्ष को खत्म किया।

स्कोर बोर्ड

न्यूजीलैंड 46.3 ओवर में सभी विकेट खोकर 155 रन

मैक्कुलम एलबीडबूल्यू बो नेहरा 3

राइडर एलबीडब्ल्यू बो नेहरा 0

गुप्टिल का द्रविड़ बो युवराज 22

टेलर का धौनी बो आरपी 11

एलियट का धौनी बो युवराज 22

ओरम का एंड बो ईशांत 24

ब्रूम का रैना बो युवराज 21

विटोरी बो ईशांत 25

मिल्स बो आरपी 6

बटलर का हरभजन बो नेहरा 6

बांड नाबाद 10

अतिरिक्त: 5

विकेट पतन: 1-1, 2-4, 3-19, 4-51, 5-66, 6-101, 7-116, 8-134, 9-142, 10-155।

गेंदबाजी

नेहरा 8.3-0-24-3

आरपी सिंह 8-2-22-2

ईशांत 10-2-26-2

युवराज 10-0-31-3

हरभजन 8-0-39-0

रैना 1-0-4-0

यूसुफ 1-0-5-0

भारत 40.3 ओवर में चार विकेट पर 156 रन

कार्तिक एलबीडब्ल्यू मिल्स 4

तेंदुलकर का गुप्टिल बो विटोरी 46

द्रविड़ एलबीडब्ल्यू ओराम 14

युवराज का गुप्टिल बो विटोरी 8

धौनी नाबाद 35

रैना नाबाद 45

अतिरिक्त: 4

विकेट पतन: 1-7, 2-67, 3-71, 4-84।

गेंदबाजी

मिल्स 5.3-1-25-1

बांड 10-3-30-0

बटलर 4-0-25-0

विटोरी 10-0-33-2

ओराम 7-1-19-1

एलियट 2-0-9-0

गुप्टिल 2-0-12-0

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.