ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

17 सितंबर, 2009

ब्रिटेन में दो भारतीय परिवारों पर नस्ली हमले

उत्तरी आयरलैंड में नस्ली हमलों का शिकार होने के बाद दो भारतीय परिवारों को मजबूरन पोर्टडाउन शहर के दूसरे हिस्से में जाना पड़ा है।

केरल से ताल्लुक रखने वाले इन दो परिवारों में से एक परिवार के दो बच्चे भी शामिल हैं। इन लोगों पर हमला किया गया, जिसे स्थानीय पुलिस ने किल्लिकोमेन इलाके में नफरत के कारण हुई आपराधिक कार्रवाई बताया है।

बच्चों के पिता ने अपना नाम गोपनीय रखने की अपील के साथ बताया कि वे घर में अपने बच्चों के साथ थे कि आधी रात से ठीक पहले घर के सामने की सीढ़ियों की खिड़की का शीशा तोड़ दिया गया। वे एक मकान में केयरटेकर का काम करते हैं।

उनकी पत्नी क्रेगेवोन एरिया अस्पताल में नर्स हैं। घटना के समय वे रात्रि ड्यूटी पर थीं। पोर्टडाउन से मिली खबरों में यह जानकारी दी गई है।

इसी इलाके में एक अन्य घटना में एक भारतीय परिवार के घर की तीन खिड़कियाँ टूटी पाई गईं। इस परिवार ने घर को सप्ताहांत में खाली कर दिया और पुलिस का मानना है कि दोनों घटनाएँ किसी एक ही आदमी की कार्रवाई लगती हैं।

उन्होंने स्थानीय मीडिया को बताया घटना के समय हम घर में ऊपर थे और एक पत्थर खिड़की के शीशे को तोड़ते हुए आया। हम इसे समझ नहीं सके। हम बेहतर जिंदगी के लिए दक्षिण भारत के केरल से यहाँ आए थे और हमने अधिकांश लोगों को दोस्ताना पाया, लेकिन अब हम इस घर में नहीं रह सकते। यह बेहद डरावना है।

उन्होंने ने बताया हमें पोर्टडाउन के किसी दूसरे हिस्से में बसने की उम्मीद है, क्योंकि हमारी नौकरी यहाँ पर है और हम अपने कामकाज से खुश हैं। हम इस हमले से बेहद डर गए हैं।

हम छह महीने से यहाँ रह रहे हैं और पोर्टडाउन से हमें प्यार सा हो गया है, लेकिन हम अपने बच्चों को इस प्रकार के नस्ली हमले का शिकार नहीं होने दे सकते।

इलाके के प्रतिनिधि कौंसिलर केनेथ टीबेल ने कहा एक मेहनतकश परिवार के खिलाफ यह निश्चित ही सिरफिरी कार्रवाई है। कहीं भी इस प्रकार के नस्लवाद के लिए कोई जगह नहीं है और मैं इन लोगों से ऐसी गतिविधियाँ बंद करने की अपील करता हूँ।

साउथ बेलफास्ट एलायंस की विधायक और उत्तरी आयरलैंड में प्रवासी आबादी के हितों की पैरोकार अन्ना लो ने कहा कि वे इस बात से बेहद दुःखी हैं कि हमले के कारण परिवार शहर को छोड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा मैं पुलिस से अपील करूँगी कि वह इलाके में गश्त बढ़ाए, ताकि इस कठिन समय में परिवार अपनी सुरक्षा को लेकर आश्वस्त हो सकें।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.