ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

10 सितंबर, 2009

मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

निर्यात में गिरावट और यूरोपीय बाजारों की कमजोरी के बीच कारोबारियों ने मुनाफावसूली कर दलाल स्ट्रीट को दबाव में ला दिया। इसके चलते गुरुवार को सेंसेक्स सुबह की तगड़ी तेजी गंवा बैठा, हालांकि यह लगातार पांचवें सत्र में बढ़त बनाए रखने में कामयाब रहा। इस दिन बंबई शेयर बाजार [बीएसई] का यह सूचकांक 33.31 अंक चढ़कर 16216.86 पर बंद हुआ। यह 5 सत्रों में करीब 818 अंक उछल चुका है। एक दिन पूर्व यह 16183.55 अंक पर बंद हुआ था। इसी प्रकार नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 5.15 अंक बढ़कर 4819.40 पर बंद हुआ। बुधवार को यह 4814.25 अंक पर था।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सुबह खासी मजबूती के साथ 16295.92 अंक पर खुला। अपनी बढ़त जारी रखते हुए यह करीब एक घंटे में सत्र के उच्चतम स्तर 16434.77 अंक तक पहुंचा। इसके बाद यूरोपीय बाजारों के कमजोर खुलने से दलाल स्ट्रीट में मुनाफावसूली शुरू हो गई।

दोपहर बाद निर्यात में गिरावट के आंकड़े को देखकर यह बिकवाली और बढ़ गई। इसके चलते कारोबार के आखिरी आधा घंटे में सेंसेक्स लुढ़ककर 16166.42 अंक के निचले स्तर पर चला गया। इस दिन बीएसई की मेटल, आईटी, बैंकिंग व टेक्नोलाजी कंपनियों के शेयरों में तेजी दर्ज की गई, वहीं रीयल एस्टेट, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स व आटो के सूचकांकों में गिरावट आई। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में 14 के शेयर नुकसान में रहे, जबकि 16 को फायदा हुआ।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.