ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

17 सितंबर, 2009

सोनिया-राहुल की सुरक्षा पर कांग्रेस चिंतित

किफायत बरतने के अभियान के तहत राहुल गांधी की पहली ही ट्रेन यात्रा में पत्थरबाजी की घटना के बाद उनकी सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई है। फिजूलखर्ची रोकने के नाम पर सोनिया व राहुल की सुरक्षा दांव पर लगाने को लेकर सवाल उठने लगे हैं। गांधी परिवार की सुरक्षा में तैनात स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप यानी एसपीजी भी आम लोगों के साथ यात्रा कर दोनों नेताओं की सुरक्षा खतरे में डालने के पक्ष में नहीं है।

कांग्रेस ने भी कहा है कि बेशक मितव्ययिता उसकी प्रतिबद्धता है, मगर सोनिया व राहुल की सुरक्षा से पार्टी कोई समझौता नहीं करेगी।

मंगलवार को शताब्दी एक्सप्रेस से लुधियाना से राहुल गांधी की वापसी यात्रा के दौरान ट्रेन पर पथराव के मद्देनजर कांग्रेस के कई दिग्गजों ने बुधवार को शीर्ष नेतृत्व तक अपनी चिंता पहुंचा दी। पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा कि नेताओं के एक बड़े वर्ग ने पथराव की घटना के मद्देनजर अपने दिग्गजों की सुरक्षा की कीमत पर इस तरह के कदम नहीं उठाने की बात कही है।

इन नेताओं ने हाईकमान के सामने तर्क दिया है कि कांग्रेस ने इंदिरा व राजीव जैसे अपने दो दिग्गज खोए हैं। ऐसे में पार्टी सोनिया-राहुल को लेकर कोई खतरा मोल नहीं ले सकती।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि एसपीजी भी नहीं चाहती कि कांग्रेस के ये दोनों दिग्गजों विमान के इकोनामी क्लास या फिर ट्रेन में आम यात्रियों की तरह सफर करें। एसपीजी ने यह संकेत भी दे दिया है कि उसकी ओर से सोनिया व राहुल को सामान्य यात्रियों के साथ यात्रा करने की इजाजत नहीं मिलेगी।

कांग्रेस प्रवक्ता जयंती नटराजन ने भी माना कि पथराव की घटना के बाद राहुल की सुरक्षा को लेकर कई तरफ से चिंता जताई गई है। पार्टी बेशक फिजूलखर्ची रोकने को लेकर गंभीर है, मगर एसपीजी सुरक्षा प्राप्त अपने शीर्षस्थ दोनों नेताओं की सुरक्षा से वह कोई समझौता नहीं करेगी।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.