ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

03 सितंबर, 2009

आदर्श मुख्यमंत्री थे वाईएसआर रेड्डी-मनमोहन

प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह ने गुरुवार को आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी की मौत को व्यक्तिगत क्षति बताया और कहा कि े लोगों की अथक सेवा के संकल्प वाले उल्लेखनीय नेता और आदर्श मुख्यमंत्री थे।
रेड्डी की पत्नी विजया लक्ष्मी को भेजे अपने संवेदना संदेश में सिंह ने कहा कि रेड्डी ने आमजनों के लिए, खास तौर से गरीबों और वंचितों के लिए काम किया। उन्होंने रेड्डी को ऐसा नजदीकी सहयोगी बताया जिन पर वे सलाह और समर्थन के लिए भरोसा करते थे। उन्होंने कहा कि रेड्डी के जाने से पैदा हुई कमी को भरना मुश्किल है।
सिंह ने अपने संदेश में कहा कि राजशेखर आंध्रप्रदेश और देश की जनता के लिए जिए और उन्हीं के लिए मर गए। उनके असामयिक निधन से आंध्रप्रदेश की जनता ने एक उल्लेखनीय नेता खो दिया है और देश ने एक आदर्श मुख्यमंत्री खोया, जो दूसरे राज्यों के लिए एक मिसाल थे।
रेड्डी की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आंध्रप्रदेश के विकास के प्रति उनके अटल संकल्प और गहरी प्रशासनिक समझ के लिए उन्हें सदैव याद रखा जाएगा।
उन्होंने कहा‍ कि उनके सभी कार्य गरीबों और जरूरतमंदों की समस्याओं के प्रति उनकी गहरी संवेदनशीलता पर आधारित होते थे। सिंह ने रेड्डी के जीवन को लोगों और खास तौर से गरीबों एवं वंचितों की सेवा और प्रतिबद्धता की मिसाल बताया और कहा कि उनकी विरासत सदा कायम रहेगी और आने वाले समय में औरों को प्रेरणा देती रहेगी।
प्रधानमंत्री ने कहा कि रेड्डी ने अपने लंबे और उल्लेखनीय राजनीतिक जीवन में जिस पद पर भी काम किया, खुद को उसके योग्य साबित किया। सिंह ने याद दिलाया कि रेड्डी 28 बरस की उम्र में राज्य विधानसभा के लिए चुने गए और चार बार लोकसभा के लिए चुने गए।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.