ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

19 अगस्त, 2009

जसवंतसिंह भाजपा से निष्कासित


वरिष्ठ भाजपा नेता जसवंतसिंह को अपने 'जिन्ना प्रेम' का खामियाजा पार्टी से बेदखल होकर भुगतना पड़ा। बुधवार को यहाँ शुरू हुई पार्टी की तीन दिनी चिंतन बैठक में उन्होंने भाजपा ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से बर्खास्त कर दिया।
कार्रवाई की पुष्टि करते हुए पार्टी अध्यक्ष राजनाथसिंह ने कहा कि जसवंतसिंह को कल शाम में ही फोन कर चिंतन बैठक में न आने के लिए कह दिया गया था। उन्होंने कहा यह फैसला पार्टी के संसदीय दल ने लिया है।
सूत्रों के मुताबिक जसवंत पर कार्रवाई के लिए भाजपा पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तरफ से भारी दबाव था।
हालिया जारी अपनी किताब 'जिन्ना : भारत विभाजन के आईने में' में भारत-पाक बँटवारे के लिए पंडित जवाहरलाल नेहरू और देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल को जिम्मेदार ठहराया था।
जसवंत के मुताबिक पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना दोनों मुल्कों के लिए सदी की इस सबसे बड़ी घटना के लिए कतई दोषी नहीं थे। उनकी खराब छवि भारत में ही बनाई गई।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.