ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

26 अगस्त, 2009

एलटीटीई वीडियो से मचा बवाल

श्रीलंका में एलटीटीई से लड़ाई के दौरान तैयार किए गए एक वीडियो को लेकर बवाल मच गया है. श्रीलंकाई पत्रकारों के एक संगठन ने ये वीडियो जारी किया है जिसमें दिखाया गया है कि कुछ लोगों को नंगा करके, उन्हें गोली मारी जा रही है. पीड़ितों के हाथ बंधे हुए हैं और आंखों पर भी पट्टी बंधी है.

मानवाधिकार संगठनों ने भी ऐतराज जताया
पत्रकारों के संगठन का दावा है कि इस वीडियो में जिनके हाथ में बंदूक है वे श्रीलंकाई सेना के जवान हैं, जबकि जिन्हें गोली मारी जा रही है वे या तो आम तमिल नागरिक हैं या फ़िर लिट्टी के लड़ाके. मानवाधिकार संगठनों को ऐतराज़ इस बात पर है कि अगर ये लिट्टे के लड़ाके हैं तो भी उनके साथ इस तरह का बर्ताव नहीं किया जा सकता. युद्ध बंदियों के साथ किस तरह का सलूक किया जाना चाहिए, ये बात जिनेवा कनवेंशन में साफ़ बताई गई है.

श्रीलंकाई सैनिकों से हासिल हुआ वीडियो फुटेज
पत्रकारों का दावा है कि ये वीडियो फुटेज उन्हें एक श्रीलंकाई सैनिक से हासिल हुआ है, जिसे इसी साल जनवरी में एक सैनिक ने अपने मोबाइल फ़ोन से तैयार किया था. पत्रकारों के मुताबिक ये वीडियो मानवाधिकार संगठनों के दावों को भी मज़बूत करता है. संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक एलटीटीई से हुई लड़ाई में क़रीब 10 हज़ार आम तमिल नागरिकों की मौत हुई थी, जबकि मानवाधिकार संगठनों का दावा है कि मरने वाले तमिलों की तादाद 20 हज़ार से ज़्यादा हैं.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.