ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

22 अगस्त, 2009

महाराष्ट्र के मंत्री थोराट ने माफी माँगी

कथित तौर पर बाघ के पिंजरे में घुसकर वन्यप्राणी अधिनियम का उल्लंघन करने वाले महाराष्ट्र के कृषि मंत्री बालासाहेब थोराट ने शनिवार को अपने कृत्य को गलत कहते हुए माफी माँग ली।
सूत्रों ने बताया कि थोराट ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश से फोन पर बात कर उन्हें घटना की जानकारी दी और माना जा रहा है कि उन्होंने अपनी ‘गलती’ मान ली।
थोराट के इस कदम से वन्यप्राणी संरक्षकों के बीच खलबली मच गई थी। उनका कहना था कि थोराट ने ऐसा करके वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम और चिड़ियाघर के नियमों का उल्लंघन किया है।
दूसरी ओर चिड़ियाघर के अधिकारियों ने मंत्री को क्लीन चिट दे दी थी। चिड़ियाघर का कहना था कि ‘पिंजरे में घुसकर उन्होंने कुछ गलत नहीं किया'। घटना से हक्के-बक्के मंत्रालय ने मामले में चिड़ियाघर प्राधिकरण से रिपोर्ट माँगी थी।
थोराट अन्य स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ बाघ के पिंजरे में घुस गए थे। पिंजरे में बाघ के तीन बच्चे थे। नियमानुसार सिर्फ अधिकृत और प्रशिक्षित कर्मचारी ही पिंजरे के अंदर घुस सकते हैं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.