ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

18 अगस्त, 2009

खगरिया के निजी क्लिनिकों पर कारवाई

खगरिया जिले में धड़ल्ले से निजी क्लिनिक खुल रहे है। वहीं, दिन प्रतिदिन इन क्लिनिक संचालकों द्वारा मनमाने ढंग से फीस बढ़ाकर मरीजों का शोषण भी किया जा रहा है। लेकिन, इन क्लिनिक पर एमसीआई के मानकों का पालन नहीं किया जा रहा है। फीस की बढ़ोत्तरी करने के बाद भी मरीजों की सुविधाओं में कोई विस्तार नहीं किया जा रहा है। यहां तक की शहर के कई प्रमुख क्लिनिकों में भी न्यूनतम सुविधा उपलब्ध नहीं है। इधर, सदर अस्पताल के उपाधीक्षक सह प्रभारी सीएस डा. जगदेव मंडल ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की नजर इस ओर है। कहा कि फर्जी डिग्री के सहारे भी चिकित्सक क्लिनिक संचालित कर रहे है। इसको लेकर पूर्व सिविल सर्जन डा. यूसी मिश्र ने अभियान चलाया था। कुछ दिन के लिए फर्जी चिकित्सकों में हडकंप व्याप्त हो गया था। लेकिन, फिर स्थिति यथावत हो गयी। कहा कि सामाजिक मान्यता ऐसे क्लिनिक को हटाने में सबसे बड़ी बाधा है। जब तक लोगों में जागृति नहीं आयेगी, तब तक ऐसे क्लिनिक को बंद नहीं किया जा सकता है। इधर, जदयू के व्यवसायकि प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष राजेश मेहता भी कहते है कि निजी क्लिनिक संचालित करने वाले चिकित्सक फीस वृद्धि कर रहे है। लेकिन, क्लिनिक पर मरीजों के लिए सुविधाओं का विस्तार नहीं कर रहे है। कहा कि कई क्लिनिक पर तो मरीज के बैठने, आग बूझाने के यंत्र, पेयजल की सुविधा आदि तक उपलब्ध नहीं है। वहीं, एक चिकित्सक ने भी नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा कि अभी तक बिहार में निजी क्लिनिक को संचालित करने वाले एक्ट लागू नहीं है। इसलिए इन पर कोई नियंत्रण नहीं है। जबकि डीएस ने कहा कि एमसीआई के मानकों को पूरा नहीं करने वाले क्लिनिकों पर कार्रवाई की अनुशंसा की जायेगी। उनकी माने तो एमसीआई ने निजी क्लिनिक को संचालित करने के लिए आवश्यक निर्देश जारी किये हुए है। जिसमें क्लिनिक पर मरीजों के लिए पर्याप्त सुविधा मुहैया कराने की शर्त भी शामिल है। वहीं, डीएम अभय कुमार सिंह ने कहा कि निजी क्लिनिक में मरीजों को पर्याप्त सुविधा नहीं मिलना एक गंभीर मामला है। इसको लेकर वे शीघ्र सिविल सर्जन को विशेष निर्देश जारी करेगे। सुविधा बहाल नहीं करने वालों पर कार्रवाई को लेकर लिखा जायेगा।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.