ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

24 जुलाई, 2009

छेड़खानी मामले में महिला आयोग ने मांगी रिपोर्ट

राष्ट्रीय महिला आयोग ने पटना में सरेआम कथित तौर पर एक महिला के कपड़े उतारे जाने की घटना पर दुख जताते हुए इस सिलसिले में बिहार सरकार से एक रिपोर्ट मांगी है और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से यह सुनिश्चित करने को कहा है कि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हों. राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष गिरिजा व्यास ने कहा कि घटना की ‘टीवी फुटेज’ देखकर उन्हें दुख पहुंचा है और उन्होंने इस घटना के बारे में एक रिपोर्ट मांगी है. पटना में गुरुवार को सरेआम लोगों के एक समूह ने 22 वर्षीय एक महिला के कथित तौर पर कपड़े उतार दिये थे.
पुलिस ने बताया कि यह महिला झारखंड के जसीडीह की रहने वाली है. वह कथित तौर पर देह व्यापार में शामिल थी. पैसे के बंटवारे को लेकर राकेश नाम के एक संदिग्ध दलाल के साथ उसका झगड़ा हो गया था. महिला ने इसके बाद राकेश का मोबाइल लेकर उससे और अधिक पैसों की मांग करने लगी. इसपर, राकेश चिल्लाने लगा कि इस महिला ने उसका मोबाइल फोन चुरा लिया है जिसके बाद लोगों के एक समूह ने इस महिला की पिटाई की और कथित तौर पर उसके कपड़े फाड़ दिये.
व्यास ने बताया ‘‘इस तरह की कोई घटना होने पर किसी भी व्यक्ति को पुलिस के पास जाना चाहिये था. लेकिन ऐसा किसी ने नहीं किया. मैंने आयुक्त और मुख्यमंत्री के नाम पत्र लिख दिया है कि उन्हें सावधानी बरतनी चाहिये कि इस तरह की घटनायें न हों.’’ इस घटना पर प्रतिक्रिया जताते हुए पूर्व महिला एवं बाल विकास मंत्री रेणुका चौधरी ने कहा कि यह मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी बनती है कि वह इस तरह के तत्वों के खिलाफ कार्रवाई कर एक उदाहरण स्थापित करें. उन्होंने कहा कि यदि वह कोई कार्रवाई करते हैं तो एक संदेश जायेगा कि सरकार इस तरह के व्यवहार को बर्दाश्त और स्वीकार नहीं करने जा रही है.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.