ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

19 जुलाई, 2009

सेना की भर्ती के दौरान हुई फायरिंग में एक मौत

यूपी के चंदौली में सेना की भर्ती के दौरान हुई फायरिंग में एक मौत के बाद युवकों ने जबरदस्त हंगामा खड़ा कर दिया. शहर में जगह-जगह तोड़फोड़ और आगजनी की गई. उपद्रवी छात्रों ने भर्ती रद्द करने की मांग करते हुए डीजेएम कोर्ट को आग लगा दी, जिसमें कई अहम दस्तावेज जल कर खाक हो गए।
उत्तरप्रदेश के चंदौली में सेना भर्ती के दौरान उस समय भगदड़ मच गई, जब अभ्यर्थियों ने अनियमितता का आरोप लगाते हुए सेना के अधिकारियों पर पथराव किया।
पुलिस सूत्रों के अनुसार हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों को काबू करने के लिए सेना द्वारा हल्का बल प्रयोग किया गया, लेकिन जब स्थिति बेकाबू हो गई तो हवाई फायर किए गए। इसके बाद अभ्यर्थी और उग्र हो गए तो मजबूर होकर सेना को फायरिंग करना पड़ी।
इस घटना में चंदौली के बसीला निवासी रामबचन का पुत्र अरविंद पाल गोली लगने से घायल हो गया। उसे अस्प्ताल ले जाया गया, जहाँ उसकी मौत हो गई। इस घटना में एक अन्य व्यक्ति जितेंद्रप्रताप मिश्र घायल हुआ है, जिसे चंदौली के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
उग्र भीड़ ने चंदौली रेलवे स्टेशन तक तोड़फोड़ की। बाद में रेलवे फाटक बंदकर रेलवे लाइन को जाम कर दिया, जिससे करीब पाँच घंटे तक मुगलसराय-गया रेल मार्ग पर ट्रेनों का आवागमन बाधित रहा।
अराजक तत्वों द्वारा अपर न्यायाधीश न्यायालय परिसर में रखी वकीलों की कुर्सी मेज तथा कुछ गाड़ियों और पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर के कार्यालय में पथराव व आगजनी की गई।
इसके अलावा उत्तेजित भीड़ ने स्टेट बैंक के एक एटीएम को फूँक दिया और आसपास की गुमटियों में भी आग लगा दी। इसके कारण चंदौली बाजार पूर्णतया बंद हो गया।
घटना की सूचना के बाद वाराणसी से एक कंपनी पीएसी तथा आसपास के थानों की पुलिस को बुलाया गया। घटना में अनेक लोगों को चोट आई, जिसमें कई पुलिसकर्मी शामिल हैं। चंदौली में अब स्थिति नियंत्रण में है। इस मामले में चंदौली कोतवाली में प्रकरण दर्ज किया गया है।
इस बीच सेना ने आज की भर्ती को रद्द करने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार ने चंदौली की घटना की न्यायिक जाँच के पहले ही आदेश दे दिए हैं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.