ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

28 जून, 2009

'बिहार को विशेष राज्य का दर्जा

रविवार को भागलपुर स्थित डोकानिया धर्मशाला में ईस्टर्न बिहार चेंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के तत्वावधान में 'बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिले' विषय पर आयोजित संगोष्ठी में वक्ताओं ने राज्य को विशेष दर्जा देने की वकालत की। संगोष्ठी का उद्घाटन चेंबर आफ कामर्स के अध्यक्ष नारायण प्रसाद, आरडी शर्मा कोटरीवाल ने किया।
संगोष्ठी में पूर्व सांसद सुबोध राय ने कहा कि बिहार की बदहाली के लिए बिहारी खुद जिम्मेवार हैं। क्योंकि उन्होंने भी जिम्मेवारी पूर्वक कर्तव्यों का निर्वाह नहीं किया है। राज्य को विशेष दर्जा देने की मांग पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी से भी की गयी थी। जिसमें स्वयं मैं और कई सांसद शामिल थे। राजनीतिज्ञों का अह्म और टकराव राज्य को ले डूबा। हालांकि प्रो. आरडी शर्मा ने इसे राजनीतिक स्टंट बताया। उन्होंने कहा कि चुनाव के ऐन वक्त पर ही क्यों ऐसे मुद्दे उठाये जाते हैं। यह पुरानी मांग है जिसे संवैधानिक तरीके से उठाया गया है। नारायण कोटरीवाल एवं मुकुटधारी अग्रवाल ने कहा कि राज्य को विशेष दर्जा देने से राज्य का विकास होगा वहीं उद्योगों को भी बढ़ावा मिलेगा। इस अवसर पर उग्रमोहन झा व मुकुटधारी अग्रवाल ने भी विचार दिये। मंच संचालन कुंज बिहारी झुनझुनवाला और धन्यवाद ज्ञापन मुकेश जैन ने किया।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.