ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

03 मई, 2009

जय-पराजय को ले सट्टेबाजी शुरू

मतदान समाप्त होने के बाद शहरी और गांवों के चौपालों पर प्रत्याशियों की जय-पराजय का आकलन तेज हो गया है। लोग अपने दोस्तों, पड़ोसियों आदि से भेंट होते ही लोकसभा क्षेत्र के प्रत्याशियों की स्थिति की जानकारी प्राप्त कर रहे हैं और इस महासंघर्ष में जीत हासिल करनेवाले संभावित उम्मीदवार की चर्चा कर रहे हैं। कौन किस नम्बर पर रहेगा लोग इसकी चर्चा भी जमकर कर रहे हैं। यहां के कार्यकर्ता भी इस चर्चा में आगे हैं। कोई कमल खिला रहा है, कोई लालटेन जला रहा है, कोई हाथ छाप को विजयी घोषित कर रहा है तो कोई हाथी को दिल्ली पहुंचाने का दावा ठोंक रहा है। इसी तरह निर्दलीय प्रत्याशियों के कार्यकर्ता भी अपने उम्मीदवारों की जीत की समां बांध रहे हैं। यहां होटलों, चाय की दुकानों पर समर्थक मतदान की गणना कर अपने-अपने उम्मीदवारों के सिर जीत का सेहरा बांध रहे हैं। चारों ओर वातावरण चुनावमय हो गया है। इस बीच यहां प्रत्याशियों की संभावित जीत-हार को लेकर सट्टेंबाजी भी शुरू हो चुकी है। कोई कमल, कोई लालटेन, कोई हाथ और कोई हाथी की जीत का दावा कर सट्टा लगा रहा है। उधर आम लोगों की नजर अब मतगणना पर टिक गई है। वे यह देखने को उत्सुक है कि कड़े संघर्ष में विजयश्री आखिर किस उम्मीदवार को मिलती है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.