ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

23 दिसंबर, 2012

आधी रात सोनिया गांधी को घर से बाहर आना पड़ा

soniya-gandhi
चलती बस में गैंग रेप के खिलाफ लोगों का गुस्सा आधी रात में भी उफान पर रहा। इसी उफान की वजह से जाड़े की आधी रात में देश की सबसे ताकतवर महिला को घर से बाहर आना पड़ा। प्रदर्शनकारी रविवार रात करीब 1 बजे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर 10 जनपथ
पहुंच गए थे। सोनिया गांधी के घर के बाहर लोग जमकर नारेबाजी करने लगे। आधी रात को भी प्रदर्शनकारियों का गुस्सा वैसा ही था। मामला बिगड़ते देख सोनिया गांधी घर से बाहर निकलीं। सोनिया गांधी ने लगभग 15 मिनट तक प्रदर्शनकारियों से बात की और उन्हें आश्वासन दिया कि हर हाल में सख्त कार्रवाई होगी।
उन्होंने लोगों से बात करते हुए कहा कि शांति बनाए रखें दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। प्रदर्शनकारी भी आरपार के मूड में थे। उन्होंनें कहा कि हमें तय समय के भीतर फांसी की सजा से कुछ भी कम नहीं चाहिए। सेनिया गांधी ने कहा कि पूरी कोशिश की जाएगी। लेकिन प्रदर्शनकारी इससे संतुष्ट नहीं हुए। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हमें समय बताया जाए की कब-तक कार्रवाई की जाएगी। सोनिया गांधी ने कहा कि आपलोग शांति बनाए रखें मैं फिर सुबह मिलूंगी। सोनिया गांधी के आश्वाशन के बावजूद प्रदर्शनरकारियों के तेवर ढीले नहीं पड़े।
इससे पहले सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से बात कर गैंग रेप मामले में फौरन कार्रवाई किए जाने और पीड़िता की हिफाजत के लिए उचित कदम उठाने की मांग की थी। चलती बस में गैंगरेप पर दिल्ली समेत पूरे देश में उबाल के बाद आखिरकार सरकार कुछ हद तक झुक गई है। सरकार ने रेप के मामले में फांसी की सजा पर कोई ठोस वादा तो नहीं किया, लेकिन सजा बढ़ाने के लिए सीआरपीसी में संशोधन की बात मान ली है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.