ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

10 जून, 2012

सत्यमेव जयते के दर्शक आमिर के साथ

टेलीविजन पर अपने कार्यक्रम ‘सत्यमेव जयते’ के जरिये आमिर खान ने चिकित्सा पेशे में भ्रष्टाचार का खुलासा किया जिससे कई चिकित्सक नाराज हो सकते हैं। लेकिन दर्शकों का मानना है कि चिकित्सा पेशे में कई तरह के अनाचार हो रहे हैं और आमिर खान ने उसे उजागर कर काफी बेहतरीन कार्य किया है।
एक चिंतित पत्नी अजिता वाजपेयी ने लिखा, ‘मेरे पति मधुमेह से पीड़ित हैं और वह चिकित्सक के पास जाना नहीं चाहते जिसकी सिर्फ एक वजह है कि वे कई तरह की जांच लिखेंगे और ढेर सारी दवाएं देंगे जो कि शायद उपयुक्त न हो।’
आमिर ने चिकित्सा पेशे में गोरखधंधे के खुलासे पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) से माफी मांगने से इंकार कर दिया था। वाजपेयी ने लिखा, ‘एक बार एक चिकित्सक ने गलत इंजेक्शन लिख दिया था। हमें आशंका हुई और हमने दूसरे चिकित्सक से परामर्श किया तो हमारी आशंका सही साबित हुई।’

आमिर के समर्थन में आने वाली वाजपेयी अकेली नहीं हैं। दी नाम के एक व्यक्ति ने लिखा, ‘कई चिकित्सकों ने 20-30 और यहां तक कि 40 साल पहले डिग्री हासिल की और इसके बाद उन्होंने नए शोध के सम्बंध में नई जानकारी हासिल करने के लिए कभी किसी प्रशिक्षण कार्यशाला में हिस्सा नहीं लिया। भारत में चिकित्सकों को मनमानी करने की खुली छूट है। आश्चर्यजनक तो यह है कि यह खुलासा एक टेलीविजन कार्यक्रम के जरिये सामने आया है न कि किसी आधिकारिक जांच के बाद।’
आमिर खान के सत्यमेव जयते की चौथी कड़ी में चिकित्सा पेशे में गोरखधंधे का खुलासा किया गया था और इसके बाद 21 चिकित्सा संस्थानों के प्रमुख संगठन ने उनसे चिकित्सा पेशे की गरिमा घटाने के लिए माफी मांगने को कहा लेकिन आमिर ने ऐसा करने से साफ इंकार कर दिया।
कई प्रशंसक और यहां तक कि चिकित्सक भी आमिर के खुलासे के समर्थन में आ गए हैं। पिछले 50 साल से चिकित्सा पेशे से जुड़े अहमदनगर के वीआर दावेरे ने कहा कि आमिर ने अपने कार्यक्रम के जरिये जो खुलासा किया है वह सच है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.