ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

13 अगस्त, 2010

देश में 11708 टन खाद्यान्न बर्बाद

कृषि राज्यमंत्री प्रो. केवी थॉमस ने राज्यसभा को बताया कि देश में एफसीआई के गोदामों में कुल 11708 टन खाद्यान्न क्षतिग्रस्त हुआ है।
निर्दलीय पी राजीव और केएन बालगोपाल द्वारा पूछे गए प्रश्नों के लिखित उत्तर में थॉमस ने बताया कि वर्षा, बाढ़, चूहे, फफूंद आदि की वजह से खाद्यान्न खराब हुआ है।
उन्होंने बताया कि एक जुलाई 2010 की स्थिति के अनुसार देश में भारतीय खाद्य निगम के विभिन्न गोदामों में उपलब्ध 11708 टन गेहूँ, चावल और धान खराब हुआ है।
थॉमस ने बताया कि पिछले वर्ष 2009-10 के दौरान क्षतिग्रस्त गेहूँ और चावल की मात्रा क्रमश: 2010 टन और 3680 टन थी। वर्ष 2008-09 में यह मात्रा क्रमश: 947 टन और 19163 टन तथा वर्ष 2007-08 में क्रमश: 924 टन और 32615 टन थी।
कृषि राज्यमंत्री ने बताया कि खाद्यान्नों की क्षति रोकने और भंडारण क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न कदम उठाए गए हैं।
एक अन्य लिखित उत्तर में थॉमस ने बताया कि उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब में जुलाई 2010 के दौरान वर्षा और बाढ़ से भारतीय खाद्य निगम के खाद्यान्नों के स्टाक को क्षति होने के बारे में खबरें मिली हैं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.