ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

04 जुलाई, 2010

बिहार में पालाबदल का दौर शुरू

बिहार में विधानसभा चुनाव में सिर्फ चार माह बचे हैं और हर चुनाव की तरह राज्य में सत्ता के दावेदार प्रमुख दलों ने पाला बदल का खेल शुरू कर दिया है। शनिवार को पूर्व सांसद अरुण कुमार जदयू में शामिल हो गए। जबकि राजद नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री तस्लीमुद्दीन कतार में हैं। वह 4 जुलाई को किशनगंज की एक सभा में जद यू में शामिल होने जा रहे है। पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह को अपनी पार्टी में शामिल करा कर राजद इसका जवाब देने की तैयारी में है। तारीख तय नहीं है। कभी जदयू सांसद रह चुके अरुण कुमार ने नेतृत्व से नाराज होकर नालंदा से पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ा था। बाद में वे कांग्रेस में शामिल हो गये थे। नेतृत्व से नाराज चल रहे पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह से हो रहे नुकसान की भरपाई के लिए कुमार को फिर से पार्टी में शामिल किया गया है। शनिवार को कुमार पटना में एक समारोह में पार्टी लौट आए। तस्लीमुद्दीन ने गत लोकसभा चुनाव में पराजित होने के बाद 28 अगस्त 2009 को ही राजद से इस्तीफा दे दिया था। वे जदयू में शामिल होना चाहते थे, लेकिन कई आपराधिक मामलों में अभियुक्त रह चुके पूर्व केंद्रीय राज्य तस्लीमुद्दीन को जदयू अपने दल में शामिल करने से हिचक रहा था। एक बार तो घोषणा तक हो चुकी थी, लेकिन अब विधानसभा चुनाव को करीब देख कर मुस्लिम वोट बैंक पर पकड़ मजबूत करने के लिहाज से पार्टी नेतृत्व ने अंतत: इस कद्दावर नेता को दल में शामिल कराने का फैसला कर लिया है। अब वे जदयू के रास्ते राजग में होंगे। हालांकि इनको लेकर दल में भी कई नेता असहज महसूस कर रहे हैं। ललन सिंह के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेन्द्र यादव व पूर्व उत्पाद मंत्री जमशेद अशरफ का कांग्रेस में जाना तय माना जा रहा है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.