ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

18 सितंबर, 2009

उतार-चढ़ाव के बीच बढ़त में रहा बाजार

आटो व रीयल एस्टेट शेयरों में अचानक आई लिवाली ने दलाल स्ट्रीट को दोपहर की गिरावट से उबार लिया। इसके चलते यहां लगातार चौथे दिन तेजी का सिलसिला जारी रहा। बंबई शेयर बाजार [बीएसई] का सेंसेक्स शुक्रवार को 30.19 अंक की हल्की बढ़त लेकर 16741.30 पर बंद हुआ। चार सत्रों में यह सूचकांक 526 अंक चढ़ चुका है। गुरुवार को यह 16711.11 अंक पर था। इसी प्रकार नेशनल स्टाक एक्सचेंज [एनएसई] का निफ्टी भी 10.50 अंक की मामूली तेजी के साथ 4976.05 पर बंद हुआ। एक दिन पहले यह 4965.55 अंक पर था। आगामी सोमवार को ईद के उपलक्ष में बीएसई और एनएसई दोनों बंद रहेंगे।

कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजों की उम्मीद में शेयरों के भाव चढ़ने और इसके बाद निवेशकों के मुनाफावसूली करने से बाजार में भारी उठापटक देखी गई। विदेशी संस्थागत निवेशकों की दलाल स्ट्रीट में लगातार लिवाली जारी है। वे 7 से 17 सितंबर के बीच बाजार में 8459.06 करोड़ रुपये की रकम उड़ेल चुके हैं। विदेशी बाजारों के मिले-जुले रुझान के बीच बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 16650.05 अंक पर कमजोर खुला। इसके बाद यह दोपहर के आसपास 16610.05 अंक के निचले स्तर तक चला गया। बाद में चुनिंदा लिवाली का सहारा पाकर इसने सत्र के दौरान 16765.03 अंक का ऊपरी स्तर भी छुआ। बीएसई में आटो, रीयल एस्टेट और हेल्थकेयर कंपनियों के शेयरों को लिवाली का लाभ मिला, वहीं बैंकिंग कंपनियों से जुड़ा सूचकांक मुनाफावसूली के दबाव में लुढ़क गया। खुदरा निवेशकों के खासी दिलचस्पी दिखाने से मिडकैप व स्मालकैप कंपनियों के शेयरों में अपेक्षाकृत अधिक तेजी दर्ज हुई। इस दिन सेंसेक्स की 30 कंपनियों में 18 के शेयर मजबूत हुए, जबकि 12 कमजोर रहे।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.