ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

24 सितंबर, 2009

आईआईटी के शिक्षक भूख हड़ताल पर गए

देशभर के प्रतिष्ठित आईआईटी शिक्षण संस्थानों के करीब 15 हजार शिक्षक अपने वेतनमान ढांचे के मुद्दे को लेकर गुरुवार को भूख हड़ताल पर चले गए, लेकिन उन्होंने कक्षाओं का बहिष्कार नहीं किया है.

पदोन्‍नति पर रोक हटाने की मांग
मानव संसाधन विकास मंत्रालय से अपने मांग पत्र पर कोई ठोस जवाब नहीं मिलने के बाद दी आल इंडिया आईआईटी फैकल्टी फेडरेशन ने भूख हड़ताल की घोषणा की. इनकी मांगों में वरिष्ठ ग्रेड में प्रोफेसरों की पदोन्नति पर लगायी गयी 40 फीसदी की रोक सीमा को हटाना भी शामिल है. 40 फीसदी वाली मांग को मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल द्वारा ठुकराए जाने के बाद प्रतिष्ठित आईआईटी संस्थानों के अध्यापक हड़ताल पर चले गए.

और स्‍वायत्तता की दरकार
फेडरेशन के अध्यक्ष और आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर एम थेनमोजी ने बताया‘‘ हमने इस मुद्दे पर मानव संसाधन मंत्रालय के प्रतिनिधियों से मुलाकात के लिए कहा था, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला, इसलिए हम हड़ताल पर चले गए.’’ सिब्बल ने कहा था कि आईआईटी प्रतिष्ठानों द्वारा उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करने के लिए आधुनिक दृष्टिकोण के साथ आगे आने पर इन संस्थानों को और अधिक स्वतंत्रता मुहैया करायी जाएगी.

ब्रांड इंस्‍टीट्यूट हैं आईआईटी
उन्होंने कहा‘‘ आईआईटी ब्रांड इंस्टीट्यूट हैं. हम उनका सम्मान करते हैं. शानदार उपलब्धियां हासिल करने के लिए हम उन्हें अधिक स्वतंत्रता देना चाहते हैं. यदि वे अपनी भावी योजनाओं पर विचार विमर्श करते हैं तो हम उन्हें अधिक स्वायत्तता देने को तैयार हैं.’’

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.