ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

01 सितंबर, 2009

वैश्विक अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे सामान्य हो रही है

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था को प्रभावित करने वाली वैश्विक आर्थिक नरमी अब अंत की ओर है और आर्थिक हालात सामान्य हो रहे हैं.
मुश्किलों भरा रहा पिछला साल
प्रधानमंत्री योजना आयोग की पूर्ण बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे. उन्होंने अपने शुरुआती संबोधन में कहा ‘‘वैश्विक आर्थिक नरमी के कारण हमारे लिए पिछला साल मुश्किलों भरा रहा. मुश्किलें अब अब खत्म हो रही है क्योंकि आने वाले महीनों में स्थिति धीरे-धीरे सामान्य होगी.’’ आयोग की बैठक में अर्थव्यवस्था के हालात और एकीकृत उर्जा नीति (आईईपी) की स्थिति का आकलन किया जा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा ‘‘देश खराब मानसून का भी सामना कर रहा है.’’ सिंह ने कहा कि योजना आयोग पूरी अर्थव्यवस्था का आकलन प्रस्तुत करे तो यह उसके लिए उपयोगी होगा. संप्रग सरकार के दूसरे कार्यकाल के गठन के बाद हो रही योजना आयोग की पहली पूर्ण बैठक में आयोग के उपाध्यक्ष मोटेंक सिंह अहलूवालिया के अलावा अन्य सदस्य भी शामिल हैं. इस बैठक में वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी, कृषि मंत्री शरद पवार और गृह मंत्री पी चिदंबरम समेत संप्रग सरकार के करीब एक दर्जन से ज्यादा मंत्री हिस्सा ले रहे हैं.
स्थिति धीरे धीरे सामान्‍य हो रही है
प्रधानमंत्री ने योजना आयोग की बैठक में कहा वैश्विक आर्थिक नरमी का चक्र समाप्त हो रहा है और स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है. वैश्विक वित्तीय संकट के असर के कारण भारत की आर्थिक वृद्धि दर 2008-09 में घटकर 6.7 फीसदी पर आ गई जो इसके पिछले वित्त वर्ष में करीब 9 फीसदी पर थी. योजना आयोग के मुताबिक वृद्धि दर 2009-10 के दौरान और अधिक घटकर 6.3 फीसदी पर आ जाएगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि अर्थव्यवस्था की समीक्षा महत्वपूर्ण है इसलिए नहीं कि हम संप्रग सरकार का दूसरा कार्यकाल शुरू कर रहे हैं बल्कि इसलिए भी कि हम 11वीं पंचवर्षीय योजना (2007-12) के मध्य में हैं.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.