ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

25 सितंबर, 2009

महंगाई व बचत पर भाजपा का प्रहार

केंद्र सरकार के मितव्ययिता अभियान की पोल खोलने में जुटी भाजपा ने अब सरकार से दोनो विदेश मंत्रियों के होटल में रुकने के बिलों का भुगतान करने वालों के नाम सार्वजनिक करने को कहा है। पार्टी ने कहा है कि अगर सरकार ऐसा नहीं करती है तो वह खुद इसका खुलासा करेगी। इधर कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी के गांव, गरीब व दलितों के बीच जाने पर टिप्पणी करते हुए पार्टी ने कहा कि वे कहीं भी जाएं, लेकिन सबसे पहले अपनी मां व मनमोहन ंिसंह से कहकर कीमतें कम कराएं।

अपने अंदरूनी घमासान से उबरने की कोशिश कर रही भाजपा अब अपने राजनीतिक विरोधियों से दो-दो हाथ करने की दिशा में बढ़ने लगी है। वह पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार के मितव्ययिता अभियान को निशाना बनाए हुए है। अब तीन राज्यों के विधानसभा चुनाव को देखते हुए कांग्रेस के स्टार प्रचारक राहुल गांधी पर भी निशाना साधने में वह नहीं चूक रही है। पार्टी प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी की हाल की उत्तर प्रदेश यात्रा व उनके गांव, गरीब व झोपड़ी में जाने पर तो कोई टिप्पणी नहीं की, लेकिन बेहद चुटीले अंदाज में कहा कि, 'राहुल गरीब की झोपड़ी में जाएं या कहीं भी जाएं, लेकिन सबसे पहले अपनी मम्मी व मनमोहन ंिसंह से कहकर कीमतें कम कराएं।'

इसके पहले प्रसाद ने एक बार फिर विदेश मंत्री एसएम कृष्णा व राज्यमंत्री शशि थरूर पर निशाना साधा। उन्होंने सरकार से पूछा कि वह यह बताए कि इन दोनों नेताओं के तीन महीने तक पांच सितारा होटलों मौर्या शेरटन व ताज मानसिंह में रुकने के बिलों का भुगतान कहां से हुआ है? उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री के होटल के बिल के भुगतान की पेशकश भारत सरकार ने की है। इस बारे में उसने पत्र भी लिखे हैं। इसके बावजूद कृष्णा ने निजी खर्च पर रहने की बात कह कर देश को गुमराह किया है। प्रसाद ने कहा कि अगर सरकार इसका खुलासा नहीं करेगी तो भाजपा इसकी सच्चाई सामने लाएगी।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.