ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

25 अगस्त, 2009

एक अक्टूबर से लागू होगी नई तत्काल टिकट की दरें


रेलवे एक अक्टूबर से तत्काल टिकटों के रेट घटाने जा रही है। नई व्यवस्था के तहत तत्काल टिकटों पर द्वितीय श्रेणी में किराए का 10 फीसदी और उससे ऊपर की श्रेणी में किराए का 30 फीसदी अतिरिक्त राशि के तौर पर लिया जाएगा। अब पूरी दूरी के स्थान पर वास्तविक यात्रा की दूरी तक तत्काल टिकट उपलब्ध होगा। यानी अगर आपको दिल्ली से आगरा तक जाना है तो इसके लिए यहीं तक लागू तत्काल का शुल्क अदा करना पड़ेगा।

रेलवे के इस फैसले से स्लीपर और उससे ऊपर की श्रेणियों में यात्रा करने वाले मुसाफिरों को सबसे ज्यादा फायदा होगा। उन्हें अब रेलगाड़ी की पूरी दूरी के बजाए केवल अपने गंतव्य स्थल तक का ही किराया चुकाना होगा।

इसके साथ ही सभी श्रेणियों के तत्काल टिकटों पर न्यूनतम और अधिकतम अतिरिक्त राशि भी तय की गई है। द्वितीय श्रेणी के तत्काल टिकट पर अब न्यूनतम 10 और अधिकतम 25 रुपये अतिरिक्त किराया देना होगा। शयनयान श्रेणी के लिए न्यूनतम अधिभार 75 रुपये और अधिकतम 150 रुपये होगा। वातानुकूलित तृतीय और द्वितीय श्रेणी के लिए यह राशि न्यूनतम 200 रुपये और अधिकतम 300 रुपये होगी।

रेलवे मंत्रालय के मुताबिक इस व्यवस्था से तत्काल टिकटों के दाम घटेंगे और यात्रियों को लाभ होगा। रेलवे ने शताब्दी रेलगाड़ियों की एग्जीक्यूटिव श्रेणी में भी कुल सीटों का 10 फीसदी हिस्सा तत्काल टिकट के लिए सुनिश्चित किया है।

रेल मंत्री ममता बनर्जी ने रेल बजट पेश किए जाने के लिए दौरान तत्काल टिकट पर लगने वाले अतिरिक्त शुल्क को घटाने की घोषणा की थी। दरें घटाने की यह कवायद इसी घोषणा का हिस्सा है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.