ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

25 अगस्त, 2009

फोन कॉल्स पर निगाह रखेगी सरकार

आतंकवाद के खतरे के मद्देनजर सरकार फोन कॉल्स की निगरानी के लिए एक केंद्रीयकृत एजेंसी के गठन पर विचार कर रही है। इसके तहत लैंडलाइन और मोबाइल दोनों तरह की फोन कॉल्स पर सरकार निगरानी रख सकेगी। अभी तक फोन कॉल्स की निगरानी दूरसंचार आपरेटर द्वारा ही की जाती है।
दूरसंचार अनुसंधान एवं विकास संगठन सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमैटिक्स (सी-डाट) दूरसंचार सुरक्षा से जुड़ी एक परियोजना पर काम कर रहा है। इस परियोजना के तहत सरकार देश और देश के बाहर काल्स पर केंद्रीयकृत व्यवस्था के तहत निगाह रख सकेगी।
वर्तमान व्यवस्था में आपरेटर व्यक्तिगत तौर पर कॉल्स पर निगाह रखते हैं और प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा माँगे जाने पर फोन टैप किया जाता है और कॉल्स की जानकारी उपलब्ध कराई जाती है।
सी-डाट के कार्यकारी निदेशक पी वी आचार्य ने कहा,‘इसे राष्ट्रीय परियोजना की तरह देखा जाना चाहिए..यह देश की सुरक्षा के लिए मुख्यत: कुछ संदेशों और बातचीत पर निगाह रखने की परियोजना होगी। आचार्य ने कहा कि हमारी टेक्नोलाजी किसी भी सेवा के आपरेटर को इंटरफेस मुहैया कराएगी, जिससे जरिये वे अपने नेटवर्क के संदेशों पर निगाह रख सकेंगे।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.